अमानवीय घटना:किन्नर और उसके साथियों ने युवक काे नशा देकर गुप्तांग काटा, पांच पर केस

बठिंडाएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • संगत मंडी के गांव गुरसर सैनेवाला के किन्नर डेेरे की घटना
  • महंत ने धाेखे से डेरे में बुलाया और की वारदात

किन्नर और उसके चार साथियों ने एक युवक काे नशा खिलाकर उसका गुप्तांग काट दिया। युवक की और से दी गई रिपोर्ट के आधार पर थाना संगत में पुलिस ने बठिंडा के डबवाली मार्ग पर गुरुसर सैनेवाला में एक किन्नर डेरे की संचालिका प्रवीण महंत और उसके चार साथियों पालसिंह, कालूराम, राजू तथा संतोष पर एफआईआर दर्ज की है। 

श्रीगंगानगर-हिंदुमलकोट मार्ग पर एक सीमावर्ती गांव के 27 वर्षीय युवक ने पिता के साथ थाने में आकर रिपोर्ट दी।

युवक ने बताया कि वह किसी तरह डेरे से भागकर अपने गांव पहुंचा। पीड़ित तीन बेटियाें का पिता है। उसका पिता बॉर्डर होमगार्ड में कार्यरत है।

युवक के अनुसार कोरोना वायरस लॉकडाउन के दौरान गुरुसर सानेवाला के डेरे में इन पांच व्यक्तियों ने अमानवीय घटना अंजाम दी।

कई दिन तक उसे डेरे में बंधक बनाए रखा गया। फिर लॉकडाउन हो गया। एक रात को मौका मिलते ही वह डेरे से भाग गया और ट्रक से लिफ्ट लेकर चोरी-छिपे श्रीगंगानगर पहुंच गया।

इस पर डाॅक्टराें ने हाेम क्वारंटाइन कर दिया। कई दिन तक किसी को कुछ नहीं बताया। बाद में पिता ने हौसला दिया और मुकदमा दर्ज करवाने थाने ले गए। 

महंत ने धाेखे से डेरे में बुलाया और की वारदात

मोनू ने पुलिस काे बताया कि महंत प्रवीण ने धोखे से डेरे में बुलवाया। महंत और उसके कुछ साथी मार्च महीने में होली के आसपास उनके गांव में किन्नर समाज के लोगों से मिलने आए थे।

मुलाकात होने पर महंत ने कहा कि यदि वह उनके डेरे में कुछ दिन के लिए आ जाए और उनके साथ बधाई मांगने चले ताे कुछ पैसे बन जाएंगे। इस पर वह 14 या 15 मार्च को बठिंडा चला गया।

28 मई को महंत के डेरे में ही कोई कार्यक्रम था, जिसमें कई लोग आए हुए थे। रात को उसके खाने में नशीली दवा मिलाकर उसे बेहोश कर दिया।

बाद में होश आया तो प्राइवेट पार्ट काट दिए जाने का पता चला। पुलिस में शिकायत करने की बात कही तो उसका मोबाइल फोन छीन लिया अाैर डेरे में ही बंधक बना लिया।

खबरें और भी हैं...