पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Bathinda
  • On November 5 From 10 Am To 4 Pm, The Announcement Of The Nationwide Chakka Jam, Farmers Resent Over Failure Of Meeting With Central Committee

एलान:5 नवंबर को सुबह 10 से शाम 4 बजे तक देशव्यापी चक्का जाम का एलान, केंद्रीय कमेटी से बैठक विफल रहने पर किसानों में बढ़ा आक्रोश

बठिंडा8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

बुधवार को खेती आर्डिनेंस के मसले पर केंद्रीय कमेटी के साथ किसान संगठनों की बैठक के विफल रहने पर संघर्षरत किसानों में केंद्र सरकार के खिलाफ आक्रोश बढ़ गया। अब केंद्र सरकार के खिलाफ आरपार की लड़ाई शुरू करने को 31 किसान संगठनों के आह्वान पर देश भर में 5 नवंबर को सुबह 10 से शाम 4 बजे तक चक्का जाम का एलान किया गया है।

वहीं खेती आर्डिनेंस का विरोध जताते हुए किसानों का 14वें दिन भी रेल चक्का जाम व कार्पोरेट घरानों के कारोबार का घेराव जारी रहा। बठिंडा मुल्तानिया रेल लाइनों पर धरना प्रदर्शन कर रहे किसानों को संबोधित करते हुए भाकियू मानसा के जिला महासचिव गुरदर्शन सिंह, कीरती किसान यूनियन के जिला प्रधान अमरजीत सिंह हनी ने कहा कि 5 नवंबर के देशव्यापी चक्का जाम की तैयारियों के लिए गांवों में रैलियां, नुक्कड़ बैठकें व संपर्क मुहिम शुरू की गई है।

उन्होंने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार पर आरोप लगाया क जब से भाजपा सत्ता में आई है, अल्पसंख्यकों के खिलाफ फैसले किए जा रहे हैं जिससे देश में दहशत का माहौल बनाया जा रहा है। लगातार कारपोरेट घरानों के हक में फैसले किए जा रहे हैं जिसका ताजा फैसला खेती आर्डिनेंस पंजाब की किसानी को बर्बाद करेगा।

कुल हिंद किसान सभा के प्रांतीय नेता बलकरण सिंह बराड़ ने पंजाब सरकार से मांग की कि स्पेशल सेशन बुलाकर काले कानून रद करवाए जाएं। किसानों के इस गंभीर मसले पर ध्यान न दिया तो पंजाब सरकार के खिलाफ संघर्ष शुरू किया जाएगा।

भाकियू संगत ब्लॉक नेता हरविंदर कोटली, जमहूरी किसान सभा के जिला महासचिव नैब सिंह, कीरती किसान यूनियन यूथ विंग के नेता सुखदीप सिंह, नथाना ब्लॉक कीरती किसान यूनियन नेता पाली सिंह, देहाती मजदूर सभा के जिला नेता मिठू सिंह, प्रकाश सिंह, भाकियू सिद्धूपुर के नेता गुरतेज सिंह ने भी संबोधित किया।

छह जगहों पर कार्पोरेट घरानों का कारोबार ठप किया

भाकियू एकता उगराहां के नेतृत्व में 14वें दिन भी छह जगहों पर कार्पोरेट घरानों का कारोबार ठप किया गया जबकि बनांवाली थर्मल प्लांट के आगे धरना जारी है। इसके साथ ही भाजपा नेताओं के घरों का दोपहर 12 से 3 बज तक घेराव शुरू किया गया है।

मुख्य वक्ता प्रांतीय कार्यकारी सचिव हरिंदर कौर बिंदू, जिला प्रधान शिंगारा सिंह मान, हरजिंदर सिंह बग्गी, दर्शन सिंह, बसंत सिंह, जगदेव सिंह, कुलवंत शर्मा ने कहा कि केंद्र सरकार की ओर से पास किए गए खेती कानून पूरे समाज के लिए घातक हैं, किसान, किसानी के अलावा छोटे-बड़े व्यापारी-कारोबारी को बचाने के लिए खेती आर्डिनेंस कानून रद किया जाना चाहिए।

खबरें और भी हैं...