पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

शिक्षा की सेवा:प्रवीण व वाणी गर्ग ताउम्र 10वीं को नि:शुल्क पढ़ाएंगे साइंस

बठिंडा8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • लॉकडाउन में बच्चों को पढ़ाई से जोड़े रखने को 9वीं से 12वीं के 250 से ज्यादा बच्चों को दे रहे मुफ्त में कोचिंग

कोरोना संकटकाल में समाज में दयालुता व समर्पण की भावना इस कदर जागृत हुई कि मुसीबत में साथ देने की परंपरा सी चल निकली है। इसी श्रृंखला में पावर हाउस रोड गली नंबर दो निवासी प्रवीण कुमार गर्ग व उनकी पत्नी वाणी गर्ग ने अनोखी मिसाल कायम करने की शुरुआत करते हुए जिंदगी भर दसवीं कक्षा के विद्यार्थियों को साइंस विषय नि:शुल्क पढ़ाने का बीड़ा उठाया है। इन दिनों लॉकडाउन में घर बैठे बच्चों को पढ़ाई से जोड़े रखने के लिए 9वीं से 12वीं तक के बच्चों को ऑनलाइन साइंस विषय नि:शुल्क पढ़ा रहे हैं।

ताकि बच्चों की पढ़ाई में आड़े न आए आर्थिक तंगी
सीबीएसई हो या पीएसईबी की मैट्रिक कक्षा, अक्सर टफ सब्जेक्ट साइंस को समझने के लिए कोचिंग की जरूरत पड़ती है जबकि अधिकांश बच्चे पारिवारिक हालातों की वजह से कोचिंग वहन करने में सक्षम नहीं होते। कई बच्चों का साइंस में हायर एजुकेशन का सपना ही टूट जाता है। घरेलू हालातों के चलते बड़ी मुश्किल से बीएससी ऑनर्स केमिस्ट्री व एमएससी ऑनर्स केमिस्ट्री किया, लेकिन पीएचडी नहीं कर पाए।

अपने अनुभव से विषय परिस्थितियों को समझते हुए प्रवीण कुमार गर्ग व वाणी गर्ग ने दसवीं के विद्यार्थियों को फिजिक्स, केमिस्ट्री व बॉयोलॉजी सब्जेक्ट जिंदगी भर एकदम मुफ्त पढ़ाने की ठानी है ताकि आर्थिक तंगी किसी बच्चे की पढ़ाई में रोड़ा न बने। कोरोना काल तक वे बच्चों को ऑनलाइन जबकि इसके बाद हालात सामान्य होने पर ऑफलाइन पैटर्न पर पढ़ाएंगे।

लाइव एक्टिविटीज व लाइव क्लासेज
साइंस ज्यादातर प्रेक्टिकल सब्जेक्ट है, इसके फार्मूला व कांसेप्ट समझाने के लिए लाइव एक्सपेरीमेंटस् और एक्टिविटी का लाइव डेमोस्ट्रेशन दिया जाता है। साइंस लेबोरेट्री में उपलब्ध तमाम तरह के इक्यूपमेंट रखे गए हैं। प्रवीण कुमार गर्ग व वाणी गर्ग बोर्ड पर लाइव क्लासेज से बच्चों को पढ़ाते हैं और डाउट भी क्लियर करते हैं। वहीं बच्चों का समय-समय पर जूम एप से सब्जेक्टिव जबकि गूगल फॉम में आब्जेक्टिव टेस्ट भी लेते हैं जिससे तैयारी संबंधी जानकारी मिलती है।

दो शिफ्टों में दे रहे फ्री ऑनलाइन कोचिंग
प्रवीण कुमार गर्ग लगातार 20 साल से केमिस्ट्री पढ़ा रहे हैं जबकि जबकि इनकी धर्मपत्नी वाणी गर्ग फिजिक्स की लेक्चरर हैं। लगातार डेढ़ साल से चल रहे लॉकडाउन की वजह से बच्चों की पढ़ाई का नुकसान हो रहा है जबकि सभी कामधंधे चौपट होने की वजह से अभिभावक भी आर्थिक तंगी के दौर से गुजर रहे हैं। ऐसे में गर्ग दंपत्ति की ओर से बच्चों को पढ़ाई में बनाए रखने के लिए 9वीं से 12वीं तक साइंस विषय की ऑनलाइन दी जा रही है जोकि कोरोना लॉकडाउन तक जारी रहेगी।

सुबह 6.30 से 7.10 बजे व 7.20 से 8 बजे तक नौवीं व दसवीं के बच्चों को साइंस विषय पढ़ाया जाता है जबकि शाम 5 से 7 बजे तक 11वीं व 12वीं के विद्यार्थियों को फिजिक्स व केमिस्ट्री की कोचिंग दी जाती है। अब तक 250 से ज्यादा बच्चे उनसे नि:शुल्क कोचिंग ले रहे हैं, बच्चों की ओर से अपना नाम, क्लास, स्कूल का नाम व शहर का नाम लिखकर प्रवीण गर्ग को वाट्सएप भेजने पर वे उसे ग्रुप में एड कर लेते हैं।

खबरें और भी हैं...