पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

डेंगू का डंक:निजी अस्पताल करवा रहे डेंगू कार्ड टेस्ट, 700 रुपए तक हो रही वसूली

बठिंडाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

डेंगू के नाम पर कई निजी अस्पतालों में आने वाले हर मरीज का डेंगू कार्ड टेस्ट करवाया जा रहा है। निजी लैब संचालक 600 से 700 रुपए तक वसूल कर रहे हैं। हालांकि इस टेस्ट में पूरी तरह से डेंगू की पुष्टि नहीं होती है। एलाइजा टेस्ट की सुविधा सिर्फ सिविल अस्पताल में ही है। जिसकी रिपोर्ट एक से दो दिन बाद आती है।

जबकि कार्ड टेस्ट की रिपोर्ट मात्र 30 से 40 मिनट में आ जाती है। प्राइवेट अस्पताल कार्ड टेस्ट व सीबीसी रिपोर्ट में प्लेटलेट्स के मुताबिक ही उपचार कर रहे हैं। डाक्टरों का कहना है कि एलाइजा टेस्ट की किट महंगी आती है और इसमें एक साथ करीब 8 से 10 सैंपलों के टेस्ट होते हैं।

एलाइज टेस्ट सिर्फ सप्ताह में दो दिन

अस्पताल में डेंगू-मलेरिया के सैंपल तो प्रतिदिन एकत्र होते हैं, लेकिन एलाइज टेस्ट सिर्फ सप्ताह में दो दिन किए जाते हैं। रिपोर्ट में देरी के चलते मरीज प्राइवेट अस्पताल में जाने को मजबूर हो रहे हैं।

असर : बकरी का दूध और कीवी महंगी

डेंगू बुखार में बकरी के दूध की भी डिमांड बढ़ गई है। बकरी का दूध 60 रुपए का 100 ग्राम मिल रहा है। गांव धांगड़ के अनिल कुमार ने बताया कि डेंगू बुखार की शिकायत होने पर बकरी का दूध लिया। जिसके लिए उसने 60 रुपए 100 ग्राम के चुकाए। इसके अलावा 20 से 25 रुपए बिकने वाली कीवी भी महंगी हो गई है। कीवी फल 40 से 45 रुपए का बिक रहा है।

कार्ड से नहीं होती डेंगू की पुष्टि

सिविल अस्पताल एसएमओ डा. मनिंदर पाल सिंह ने कहा कि लैब में सप्ताह के दो दिन मंगलवार और शुक्रवार को डेंगू का टेस्ट किया जाता है। एलाइजा टेस्ट की प्रक्रिया अधिक होने के कारण समय लगता है। निजी लैब में डेंगू का कार्ड से किया जाता है। जिसमें डेंगू की पुष्टि नहीं होती, इसलिए एलाइजा टेस्ट करवाया जाता है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- परिस्थिति तथा समय में तालमेल बिठाकर कार्य करने में सक्षम रहेंगे। माता-पिता तथा बुजुर्गों के प्रति मन में सेवा भाव बना रहेगा। विद्यार्थी तथा युवा अपने अध्ययन तथा कैरियर के प्रति पूरी तरह फोकस ...

और पढ़ें