बरेटा / पीजीआई में दाखिल सर्बजीत कौर के लिए सहायता की मांग

X

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 07:40 AM IST

बठिंडा. शिक्षा विभाग पंजाब के स्कूलों में ईजीएस, एआईई ओर एसटीआर वालंटियर कई साल से मामूली मान भत्ते पर काम कर रहे हैं। समय समय पर इनकी सेवाएं रेगुलर करने के लिए कई मीटिंगें हुई। जिनका आज तक कोई नतीजा न निकल सका।

आध्यापक नेता जसवीर सिंह खुडाल ओर दर्शन सिंह ने बताया कि यह वालंटियर प्री प्राइमरी कक्षाओं को पढ़ाते हैं परंतु सरकार की ओर से मिलने वाली मेडिकल सुविधाओं से वंचित हैं। इसकी उदाहरण यह है कि मानसा जिले के साथ संबंधित सर्बजीत कौर मीरपुर कलां के न्यू सरकारी प्राइमरी स्कूल में पढ़ा रही है। जिसकी डिलिवरी मानसा के एक निजी अस्पताल में 1 मई को हुई थी।

डिलिवरी के बाद किडनियों में खराबी आ जाने पर उसे 11 मई को पीजीआई चंडीगढ़ में रेफर कर दिया गया। उन्होंने कहा कि उसके इलाज पर करीब तीन चार लाख रुपए खर्च आ चुका है। परिवार की ओर से पंजाब के शिक्षा मंत्री अाैर शिक्षा सचिव से मांग की गई है कि इस होनहार वॉलंटियर अध्यापक के इलाज का पूरा खर्चा पंजाब सरकार उठाएंगी कि वह फिर सेहतमंद होकर विभाग की सेवा कर सके।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना