पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

ईंट पर टिका सिस्टम!:सरकारी अस्पताल में स्ट्रेचरों की खस्ताहालत, टूटे पहिए के नीचे लगाई ईंट

बठिंडा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बठिंडा के सरकारी अस्पताल में स्ट्रेचरों की खस्ताहालत है। - Dainik Bhaskar
बठिंडा के सरकारी अस्पताल में स्ट्रेचरों की खस्ताहालत है।

बठिंडा के सरकारी अस्पताल में स्ट्रेचरों की खस्ताहालत के चलते मरीजों व उनके परिजनों को परेशानियों का सामना करना पड़ता है। फ्लू कार्नर के सामने गंभीर हालत में स्ट्रेचर पर एक व्यक्ति अकेला पड़ा था, उसके पैर का ऑपरेशन होना था।

मरीज के परिजन ने बताया कि पहले स्ट्रेचर खोजने पर मिला नहीं, काफी देर बाद एक स्ट्रेचर मिला तो फ्लू कार्नर तक पहुंचते ही स्ट्रेचर का एक पहिया निकल गया। फ्लू कार्नर में भीड़ होने के कारण सैंपल देने में देरी हो रही थी। संभालने वाला और कोई नहीं था, जिसके चलते टूटे पहिए के नीचे ईंट लगा दी।

सिविल अस्पताल में सिर्फ 15-20 स्ट्रेचर

शुक्रवार को दोपहर भास्कर टीम ने अस्पताल का दौरा किया तो अस्पताल की इमरजेंसी से लेकर ओपीडी तक सिर्फ 5-6 स्ट्रेचर ही दिखाई दिए। इनमें भी कई स्ट्रेचर तीन पहियों पर अपनी हालत बयां कर रहे थे और इन्हीं टूटे स्ट्रेचरों को बारी-बारी परिजन मरीजों को पहले इमरजेंसी से ओपीडी तो बाद में आेपीडी से इमरजेंसी तक ले जाते देखे गए। अधिकारी दावा करते हैं कि पूरे अस्पताल में 150 से अधिक स्ट्रेचर हैं, लेकिन असलियत ये है कि स्ट्रेचर 15 से 20 तक ही दिखाई देते हैं और खस्ताहाल हैं।

दिशानिर्देश दिए जाएंगे

एसएमओ डा. मनिंदर पाल सिंह ने बताया कि मरीज के परिजन स्ट्रेचर का उपयोग करने के बाद उसे उचित स्थान पर नहीं रखते इस संबंध में जरूरी दिशानिर्देश जारी किए जाएंगे।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थिति पूर्णतः अनुकूल है। बातचीत के माध्यम से आप अपने काम निकलवाने में सक्षम रहेंगे। अपनी किसी कमजोरी पर भी उसे हासिल करने में सक्षम रहेंगे। मित्रों का साथ और सहयोग आपकी हिम्मत और...

    और पढ़ें