पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

इंटरलॉकिंग से निखरेगी गांवों-शहरों की नुहार:महिलाएं होंगी आत्मनिर्भर, पंजाब स्टेट रूरल लाइवलीहुड मिशन के तहत गांव हररायपुर में लगाया इंटरलॉकिंग प्रोजेक्ट

बठिंडा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • ये इंटरलॉकिंग प्रोजेक्ट पंजाब का ही नहीं बल्कि देश का पहला विलक्षण प्रोजेक्ट जिसमें महिलाएं करेंगी निर्माण, प्रोजेक्ट से 30 से अधिक परिवार का होगा भरण-पोषण

(प्रदीप शर्मा) गांवों व शहरों की खूबसूरती को बढ़ा रही आधुनिक जमाने की पसंद इंटरलॉकिंग टाइलों से अब महिलाओं का भविष्य भी संवरेगा और वे आत्मनिर्भर बनेंगी। पंजाब स्टेट रूरल लाइवलीहुड मिशन के तहत बठिंडा के गांव हररायपुर में इंटरलॉकिंग प्रोजेक्ट लगाया गया है जोकि पंजाब का ही नहीं बल्कि देश का पहला विलक्षण प्रोजेक्ट हैं जिसमें महिलाएं काम करेंगी। हररायपुर आजीविका सेल्फ हेल्प ग्रुप की ओर से संचालित इंटरलॉकिंग प्रोजेक्ट से 30 परिवार का भरण-पोषण हो सकेगा।

शुरुआती में 60 एमएम साइज की टाइल्स बनाई जाएंगी
सीमेंट, कंक्रीट, रेता, केमिकल और पानी का एक निश्चित अनुपात में मिक्सचर से इंटरलॉकिंग टाइल्स बनाने के लिए विभागीय औपचारिकताएं पूरी कर ली गई हैं। वहीं टाइल्स की स्ट्रेंथ की चेकिंग सरकारी एजेंसी से करवाई जाएगी जिसके आधार पर प्रोजेक्ट को आईएसआई मार्का मिलेगा। शुरुआती चरण में 60 एमएम साइज की टाइल्स बनाई जाएंगी जबकि अगले चरण में फुटxफुट साइज की कलरफुल टाइलें भी बनाई जाएंगी। इस प्रोजेक्ट के जरिए 1 महीने में लगभग सवा लाख इंटरलॉकिंग टाइल्स तैयार होंगी।

अस्पताल की पुरानी इमारत में लगाया प्रोजेक्ट
गांवों की दशा व दिशा बदलने की कड़ी में वहां रहने वाले लोगों का लीविंग स्टैंडर्ड बढ़ाने की पहल करते हुए पीएसआरएलएम की ओर से अनेक विकास प्रोजेक्ट चलाए जा रहे हैं। इसी कड़ी में गांव हररायपुर की सेल्फ हेल्प ग्रुप की ओर से कोई उद्योग लगाने की इच्छा जताने पर इंटरलॉकिंग टाइल्स प्रोजेक्ट लगाया जा रहा है।

गांव के पुराने अस्पताल की इमारत की रेनोवेशन के बाद वहां प्रोजेक्ट लगाया गया है, खुले प्रांगण में मिक्सचर व बाइब्रेटर प्लांट इंस्टॉल किया गया है। मोटर के लिए बिजली कनेक्शन ले लिया है जबकि आगामी 15 दिनों में नरेगा के जरिए शेड का निर्माण कराया जाएगा। इंटरलॉकिंग टाइल्स का निर्माण करने वाली सेल्फ हेल्प ग्रुप की 10 मेंबरों को तकनीकी तौर पर माहिर बनाने के लिए प्रोफेशनल्स की ओर से 1 महीने की ट्रेनिंग दी जा रही है।

कमेटी करेगी मॉनिटरिंग
सरकार के इस प्रोजेक्ट का कार्यभार सेल्फ हेल्प ही संभालेंगी लेकिन इंटरलॉकिंग की डिमांड, खपत के अलावा बिक्री का लाभांश आदि का लेखा-जोखा की मॉनिटरिंग को कमेटी की ओर से की जाएगी। इसके अलावा कलस्टर कोआर्डिनेटर, ब्लॉक प्रोग्राम मैनेजर, फंक्शन मैनेजर, डिस्ट्रिक्ट प्रोगाम मैनेजर की ओर से भी समय-समय पर प्रोजेक्ट का अवलोकन किया जाएगा जबकि ओवरआल इंचार्ज एडीसी डेवलपमेंट ही होंगे। लगभग 10 लाख रुपए की लागत से लगाए इस प्रोजेक्ट की प्रोपर्टी पीएसआरएलएम की ही रहेगी।

टाइलों की खूबसूरती के साथ लाइफ ज्यादा
गांवों में सीमेंट-क्रंकीट की सड़क की बजाय टाइलों का ही अधिक प्रयोग होने लगा है। गांवों के बाद शहरों में भी बनाई जाने वाली सड़कों में इनका प्रयोग अब लगातार बढ़ रहा है। ईटों के खड़ंजों की बजाय सीमेंट टाइल की मजबूती के बाद पंचायतों द्वारा कराए जाने वाले विकास कार्यो में इनकी मांग में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। सीमेंट की टाइल निर्माण में सीमेंट के साथ इन्हें कलात्मक रूप भी दिया जाने लगा है।

इस वजह से रंगीन टाइलों की मांग घरों के आंगन में भी बिछाने में होने लगी है। गांवों से लेकर शहरों में इन टाइलों का प्रयोग बढ़ा है। गुणवत्तायुक्त टाइलों की उम्र काफी अच्छी होती है। इसके अतिरिक्त सजावटी टाइलें भी बननी शुरू हुई हैं। भवन निर्माण में ब्लाक की भी मांग बढ़ी है। शहर-गांवों की गलियां, पार्क, पेट्रोल पम्प ही नहीं बल्कि बड़ी-बड़ी इमारतों के पाथ वे में भी कलरफुल इंटरलॉकिंग टाइलों का चलन बढ़ा है।

महिला सशक्तिकरण को बढ़ावा मिलेगा: एडीसी डी परमवीर सिंह
एडीसी डेवलपमेंट बठिंडा - परमवीर सिंह ने बातचीत करते हुए कहा कि महिला ग्रुप की ओर से संभाले जाने वाला इंटरलॉकिंग प्रोजेक्ट देश में सबसे पहले गांव हररायपुर में लग रहा है। सरकारी प्रोजेक्ट होने की वजह से इंटरलॉकिंग टाइल्स रियायती दामों में विकास के हर प्रोजेक्ट के लिए उपलब्ध हो सकेंगी, वहीं इससे होने वाले आमदनी से महिला सशक्तिकरण को भी बढ़ावा मिलेगा।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- समय की गति आपके पक्ष में रहेगी। सामाजिक दायरा बढ़ेगा। पिछले कुछ समय से चल रही किसी समस्या का समाधान मिलने से राहत मिलेगी। कोई बड़ा निवेश करने के लिए समय उत्तम है। नेगेटिव- परंतु दोपहर बाद परिस...

और पढ़ें