पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कन्या भ्रूण हत्या:सिविल में जन्मे 11 बच्चे, अस्पताल में रहा जश्न जैसा माहौल नवविवाहिताओं को शॉपिंग के साथ-साथ गिफ्ट दे रहे पति

पुनीत गर्ग | संगरूर12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

पंजाब में कई बार कन्या भ्रूण हत्या की घटनाएं सामने आ चुकी हैं। शायद इसका कारण लोग लड़कियों से अधिक लड़कों को प्यार करते रहे हैं। परंतु अब धीरे-धीरे लोगों की मानसिकता में बदलाव आ रहा है। इसे सरकार की मुहिम का असर समझे या फिर लोगों की जागरूकता लेकिन अब पंजाब के लोग लड़कों के साथ लड़कियों की लोहड़ी मनाने लगे हैं।

यहीं कारण है कि पंजाब में लोहड़ी के पर्व पर अब हर घर में धूम मचने लगी है। लड़कों और लड़कियों में अंतर समाप्त करने के लिए दो दिनों से जिले भर में लड़कियों को सम्मानित किए जाने के साथ- साथ लड़कियों को जरूरत आदि का सामान भेंट किया जा रहा है। यहीं कारण है कि लड़कियों का अनुपात लड़कों के अनुपात में अधिक अंतर नहीं रहा है।

अस्पताल में जन्म लेने वाले बच्चों के पिछले एक वर्ष के आंकड़े पर नजर डाली जाए तो वर्ष 2020 में अस्पताल में 2702 लड़कों और 2456 लड़कियों ने जन्म लिया है। हालांकि लड़कों के मुकाबले लड़कियों का अनुपात कम है परंतु जुलाई और नबंवर माह ऐसे है जिसमें लड़कों के मुकाबले लड़कियों ने अधिक जन्म लिया है। लोहड़ी से एक दिन पहले शहर में जिले के सबसे बड़े सिविल अस्पताल में 7 बच्चों ने जन्म लिया है

जिसमें 6 लड़के और 1 लड़की शामिल है। अस्पताल में लड़का पैदा होने पर जिस तरह मां खुश दिखाई दी उसी तरह लड़की पैदा करने वाली मां के चेहरे पर भी मुस्कराहट देखने को मिली है। सभी 7 परिवारों को बुधवार के बाद ही अस्पताल से छुट्टी दी जाएगी। ऐसे में परिवार अस्पताल में मिठाई बांट कर लोहड़ी की खुशियों को सांझा करेंगे। उधर, अस्पताल प्रबंधन की ओर से भी लोहड़ी पर जच्चा- बच्चा केन्द्र में पर्व को सांझा

किए जाने की तैयारियां की जा रही है। एसएमओ डॉ. बलजीत सिंह का कहना है कि लोहड़ी पर प्रति वर्ष नर्सिंग इंस्टीट्यूट में तो कार्यक्रम आयोजित होता है परंतु इस बार प्रबंधन नवजन्मे बच्चों की मां के साथ भी लोहड़ी का पर्व मनाने की योजना बना रहा है। जच्चा- बच्चा केन्द्र में मिठाई और रेवड़ी बांट कर सभी का मुंह मीठा करवाया जाएगा।

दूसरी बेटी की लोहड़ी भी धूमधाम से मनाएगा परिवार
धूरी निवासी मनोज कुमार की पत्नी मीनाक्षी के पास मंगलवार को दूसरी बेटी ने जन्म लिया है। पहली बेटी की लोहड़ी भी धूमधाम से मनाई गई थी। इस बार भी परिवार की ओर से बुधवार को अस्पताल परिसर में मिठाई बांट कर बेटी की लोहड़ी मनाई जाएगी। मीनाक्षी का कहना है कि सो क्यों मंदा आखिए, जित जन्मे राजान। राजा- महाराजाओं और वीरों को भी मां ही जन्म देती है। इसलिए लड़की की सबसे अधिक महत्ता है।

परविंदर कौर ने बेटे को दिया जन्म, बांटेंगे मिठाई
बरनाला निवासी जसप्रीत सिंह की पत्नी परविंदर कौर ने दूसरे बेटे को जन्म दिया है। हालांकि परविंदर कौर की इच्छा बेटी की थी क्योंकि घर में लक्ष्मी का होना भी जरूरी है। परंतु राम और लक्ष्मण की जोड़ी भी बेहद खूबसूरत है। परविंदर कौर का कहना है कि बुधवार को अस्पताल में दाखिल सभी परिवारों संग बेटी की लोहड़ी को सांझा किया जाएगा। उन्होंने कहा कि लड़की
और लड़के में फर्क न समझें।

पहली लोहड़ी पर शिव पत्नी शिलकी को कराएंगे शॉपिंग
दिड़बा के शिव गर्ग की 6 जुुलाई को लहरागागा की शिलकी से शादी हुई है। शादी की पहली लोहड़ी पर शिव गर्ग ने पत्नी को उसकी मर्जी की शापिंग करवाने की योजना बनाई है। जिसके बाद घर में लोहड़ी का जश्न मनाया जाएगा। शिव गर्ग का कहना है कि बुधवार को घर पर दोस्तों और पारिवारिक सदस्यों के साथ लोहड़ी का माथा टेका जाएगा। शिलकी भी पति के साथ पहली लोहड़ी को लेकर काफी उत्साहित हैं।

पत्नी को सोने की बालियों का दिया उपहार
सुनाम के रजत की शादी 23 अगस्त को लीजा के साथ हुई है। रजत ने शादी की पहली लोहड़ी को यादगार बनाने के लिए पत्नी लीजा को सोने की कानों की बालियां लेकर दी है। जिसे पाकर लीजा भी काफी खुश है। रजत का कहना है कि लोहड़ी पर स्पेशल ड्रेस भी तैयार करवाई गई है। म्यूजिक का विशेष प्रबंध किया गया है। शादी के बाद लोहड़ी का पर्व भी यादगार पलों में व्यतीत होगा।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- व्यस्तता के बावजूद आप अपने घर परिवार की खुशियों के लिए भी समय निकालेंगे। घर की देखरेख से संबंधित कुछ गतिविधियां होंगी। इस समय अपनी कार्य क्षमता पर पूर्ण विश्वास रखकर अपनी योजनाओं को कार्य रूप...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser