पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

राहत भरी बात:मई के पहले हफ्ते 1300 कोरोना मरीज मिले जून में 3 गुणा कम होकर 415 नए केस आए

संगरूर9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
संगरूर के श्मशानघाट में औसतन एक का हो रहा संस्कार, मई में औसतन तीन था। - Dainik Bhaskar
संगरूर के श्मशानघाट में औसतन एक का हो रहा संस्कार, मई में औसतन तीन था।
  • नए मरीजों के साथ मृत्य दर में भी आई कमी, मई के 6 दिनों में 79 और जून में 42 ने तोड़ा दम
  • रविवार को सप्ताह में सबसे कम 56 नए मरीज मिले, 4 की मौत

मई के मुकाबले जून माह का पहला सप्ताह काफी राहत भरा रहा है। रविवार को जून माह के अब तक के सबसे कम 56 कोरोना मरीज सामने आए है। हालांकि 35 वर्षीय युवती समेत चार कोरोना मरीजों की मौैत हुई है।

मई माह के पहले 6 दिनों की बात करें तो इन दिनों में 1300 कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे, जबकि 79 मरीजों की मौत हुई थी। जून के पहले 6 दिनों में 415 कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं, जबकि 42 मरीजों ने दम तोड़ा है। इससे साफ है कि कोरोना की रफ्तार थमने लगी है, परंतु लोगों की लापरवाहियां बढ़ने लगी है, जो कि जानलेवा साबित हो सकती है।

रविवार को नए पॉजिटिव मरीजों में सबसे अधिक कोहरियां में 9, लौंगोवाल में 8, धूरी में 7, अमरगढ़ में 7, फतेहगढ़ पंजगराइयां में 5, संगरूर में 4, मूनक में 4, शेरपुर में 4, सुनाम में 3, भवानीगढ़ में 3 व अहमदगढ़ में 2 मरीज पाए गए है। जिले में कोरोना मरीजों की संख्या 15 हजार को पार 15017 हो गई है।

वहीं, रविवार को 128 मरीजों को छुट्टी मिलने पर ठीक होने वाले मरीजों की संख्या 13 हजार 377 हो गई। एक्टिव केस 850 रह गए हैं। एक्टिव मरीजों में 1 मरीज वेंटीलेटर पर है, जबकि 2 मरीजों की हालत गंभीर बनी हुई है।

इन मरीजों ने तोड़ा दम, जिले में कोरोना से मरने वालों का आंकड़ा 790 पहुंचा

लौैंगोवाल ब्लाॅक की 35 वर्षीय युवती 3 जून को कोरोना पॉजिटिव पाई गई थी, जिसे 4 जून को लुधियाना के निजी अस्पताल में भर्ती करवाया गया था। उसका ऑक्सीजन लेवल 88 प्रतिशत था, परंतु हालत खराब होने पर युवती ने दम तोड़ दिया।

लौंगोवाल ब्लाॅक की 48 वर्षीय महिला को 1 जून को पटियाला के रजिंदरा अस्पताल में भर्ती करवाया गया था। उसे पिछले एक दिन से खांसी व सांस लेने में समस्या थी। महिला का ऑक्सीजन लेवल भी 86 प्रतिशत तक गिर गया था। हालत खराब होने पर 6 जून को महिला ने दम तोड़ दिया। शेरपुर ब्लाॅक की 60 वर्षीय बुजुर्ग महिला को 3 जून को पटियाला के रजिंदरा अस्पताल में भर्ती करवाया गया।

उसे पिछले 12 दिन से बुखार व 7 दिन से सांस लेने में समस्या थी। हालत में सुधार न होने के कारण 6 जून की सुबह उसकी मौत हो गई। लौंगोवाल ब्लाॅक के 67 वर्षीय बुजुर्ग को 3 जून को पटियाला के रजिंदरा अस्पताल में भर्ती करवाया गया था, जिसे पिछले 2 दिन से सांस लेने में समस्या थी। 6 जून की सुबह बुजुर्ग ने दम तोड़ दिया। इसके साथ ही जिले में कोरोना से मरने वालों की संख्या 790 हो गई है।

खबरें और भी हैं...