विश्व दृष्टि दिवस:आंखों की रोशनी बढ़ाने को विटामिन ए से भरपूर सब्जियां खाएं

संगरूर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
विश्व दृष्टि दिवस पर लोगों को जागरूक करते सेहत विभाग के अधिकारी। - Dainik Bhaskar
विश्व दृष्टि दिवस पर लोगों को जागरूक करते सेहत विभाग के अधिकारी।
  • सेहत विभाग ने लोगों को आंखों की संभाल, बीमारियों और स्वस्थ रखने संबंधी जागरूक किया

सेहत विभाग की ओर से सिविल अस्पताल आई मोबाइल संगरूर में विश्व दृष्टि दिवस मनाया गया। इस दौरान विभाग की ओर से लोगों को आंखों की संभाल, आंखों की बीमारियों और आंखों को दुरुस्त रखने संबंधी जागरूक किया गया। एसएमओ डॉ. संजय माथुर ने बताया कि इस साल विश्व दृष्टि दिवस का थीम अपनी आंखों से प्यार करो है।

उन्होंने कहा कि आंखें कुदरत का एक अनमोल तोहफा है जिनकी संभाल अति जरूरी है। उन्होंने कहा कि तनाव के कारण आंखों पर बुरा प्रभाव पड़ता है इसलिए हमें तनाव मुक्त जीवन व्यतीत करना चाहिए। लोगों में अंधेपन के कारण जागरूकता की कमी भी बढ़ी है। यदि आंखों का इलाज समय पर कर लिया जाए तो आंखों की गंभीर समस्या से बचा जा सकता है।

शुगर पीड़ित को समय-समय पर आंखों की जांच करवाते रहना चाहिए : सीएमओ

डॉ. माथुर ने बताया कि मोतिया व गलूकोमा के बाद कोरनिया संबंधी बीमारियां आंखों के नुकसान व अंधेपन का मुख्य कारण है इसलिए हमें आंखों की जांच करवाते रहना चाहिए। उन्होंने बताया कि शुगर पीड़ित को समय-समय पर अपनी आंखों की जांच करवाते रहना चाहिए व शुगर को कंट्रोल रखने के लिए जरूरी इलाज करवाना चाहिए।

यदि किसी को 40 साल की आयु के बाद धुंधला दिखाई देता है तो उसे मोतियाबिंद की शिकायत हो सकती है। बिना किसी डॉक्टरी सलाह के कोई भी दवा आंखो में नहीं डालनी चाहिए। आंखो की माहिर डॉ. निधि ने कहा कि तंबाकूनोशी आंखों समेत शरीर के विभिन्न अंंगों को नुकसान पहुंचाती है इसलिए तंबाकूनोशी से गुरेज किया जाए। छात्रों के लिए जरूरी है कि कम रोशनी में नहीं पढ़ना चाहिए।

खबरें और भी हैं...