पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

इंसाफ के लिए पानी की टंकी पर चढ़ा:कुरड़ गांव में जमीनी विवाद में इंसाफ के लिए बुजुर्ग दंपति पानी की टंकी पर चढ़ा

संगरूर19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

गांव कुरड़ में एक दलित बुजुर्ग दंपती जमीनी विवाद में इंसाफ की मांग को लेकर पानी की टंकी पर चढ़ गया। दंपति का आरोप है कि उनकी जमीन पर अवैध कब्जा किया जा रहा है। पुलिस सुनवाई नहीं कर रही है। उन्होंने कहा कि यदि इंसाफ न मिला तो सख्त कदम उठाएंगे। गांव के वेलफेयर क्लब के प्रधान जसपाल सिंह ने बताया कि अमर सिंह व उसकी पत्नी गुड्डी कौर बुधवार सुबह 11 बजे पानी की टंकी पर चढ़े।

उन्होंने बताया कि कहा कि सोमा सिंह नामक व्यक्ति से उनका जमीनी विवाद चल रहा है। गांव में दलितों के लिए आरक्षित जमीन है, जिसके लगभग 1 कनाल हिस्से को लेकर विवाद है। पानी की टंकी पर चढ़े अमर सिंह ने आरोप लगाया कि इस मामले में वह कई बार अधिकारियों से मिल चुके हैं, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई। सोमा सिंह ने उसकी जमीन पर कब्जा किया है।

एसएचओ बलजीत सिंह का कहना है कि दलितों के लिए आरक्षित जमीन को बेची या खरीदी नहीं जा सकती है। जिन परिवारों के पास एेसी जमीन होती है वह सिर्फ अस्टाम लिखकर किसी को आगे दे सकते हैं। उन्होंने बताया कि अमर सिंह व उसके परिवार की तरफ से यह जमीन भगत सिंह नामक व्यक्ति को दी गई थी।

भगत सिंह ने अमर सिंह से 1.60 लाख रुपए लेने थे। भगत सिंह ने कहा था कि मेरे पैसे दे दो और जमीन ले लो। इसके बाद उसने जमीन सोमा सिंह नामक व्यक्ति को दी। उन्होंने बताया कि पुलिस स्टेशन में समझौते के समय सोमा सिंह ने माना था कि वह रुपए लेकर यह जमीन अमर सिंह व उसके परिवार को दे देगा।

लेकिन सोमा सिंह ने खेत में धान की बिजाई कर दी है। अमर सिंह फरार है। पुलिस उसे पकड़ कर समझौता करवाएगी कि अमर सिंह को जमीन दी जाए। अमर सिंह ने कहा कि वह टंकी से तब तक नहीं उतरेंगे, जब तक जमीन नहीं मिल जाती। रात नौ बजे तक दंपती टंकी से नहीं उतरे थे।

खबरें और भी हैं...