पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

सेहत विभाग सक्रिय:बर्फी, दूध, खोया, गुलाबजामुन, पतीसा, सोन पापड़ी के सैंपल लिए, ज्यादातर दुकानों में नहीं दिखी सफाई

संगरूर13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • त्योहारी सीजन शुरू; संगरूर, दिड़बा, सूलरघराट में मिठाई की दुकानों में चेकिंग

त्योहारों का सीजन शुरू हो गया है। जिसे देखते हुए जिले में बड़े स्तर पर मिठाई आदि बनाने का काम भी शुरू हो चुका है। आलम यह है कि वर्ष में 10 माह बंद पड़े रहने वाले निर्माण स्थलों के गेट खुल चुके हैं। ऐसे में खाने- पीने की वस्तुओं में मिलावट की अाशंका से इनकार नहीं किया जा सकता है। इस कारण जिले के लोग त्योहार के सीजन में मिलावटी वस्तुओं को लेकर काफी चिंतित है।

रविवार को सेहत विभाग ने संगरूर, दिड़बा, सूलर घराट में कुछ मिठाई की दुकानों पर औचक चैकिंग की। विभाग के सहायक फूड कमिशनर अमृतपाल सिंह व फूड सेफ्टी अधिकारी संदीप सिंह संधू की अगुअाई में टीम ने बर्फी, दूध, खोया, गुलाबजामुन, पतीसा, सोन पापड़ी आदि खाद्य पदार्थों के 9 सैंपल लिए।

चेकिंग के दौरान ज्यादातर मिठाई विक्रेताओं ने सफाई का ध्यान नहीं रखा था व न ही कोविड-19 के नियमों का पालन किया जा रहा था। विभाग के अधिकारियों ने दुकानदारों को नियमों की पालना करने के आदेश दिए हैं।

मिठाई पर एक्सपायरी डेट जरूरी, नियमों का उल्लंघन करने पर होगी कार्रवाई

कारीगरों को मास्क पहनवाकर रखें, मिठाइयां ढंककर रखी जाएं : एएफसी

सहायक फूड कमिशनर अमृतपाल सिंह ने बताया कि कोविड-19 के चलते प्रत्येक कारीगार को मास्क पहनना जरूरी है। परंतु ज्यादातर कारीगरों ने मास्क नहीं पहना था। कई गोदामों में सफाई का अभाव था व मिठाइयां बिना ढके पडी थी। मिठाइयों के सैंपल लेकर जांच के लिए लैब में भेज दिए गए।

जिनकी रिपोर्ट दो सप्ताह के भीतर आ जाएगी। मिठाई विक्रेताओं को आदेश दिए गए है कि वह नियमों की सही ढंग से पालन करें। लोगों की सेहत के साथ खिलवाड़ किसी भी कीमत पर बर्दाशत नहीं किया जाएगा। नियमों का उल्लंघन करने वाले दुकानदारों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। दुकानों में मिठाई के सामने एक्सपायरी डेट होना जरूरी है।

10 किलोग्राम मिठाई में 2 मिलीग्राम कलर ही इस्तेमाल किया जा सकता है : फूड सेफ्टी अधिकारी

फूड सेफ्टी अधिकारी संदीप सिंह संधू ने बताया कि नियमों के अनुसार खाने-पीने की वस्तुओं बेचने और तैयार करने वालों को फूूड सेफ्टी एक्ट के तहत रजिस्ट्रेशन करवाना अनिवार्य है। जिसके तहत खाद्य वस्तुएं तैयार करने वाले स्थान पर पूरी साफ-सफाई होना जरूरी है।

साफ हाथों, सिर को ढक कर ही वस्तु को तैयार किया जा सकता है। 10 किलोग्राम मिठाई में 2 मिलीग्राम कलर ही इस्तेमाल किया जा सकता है। मिठाई निर्माण में इस्तेमाल होने वाला मैटीरियल अच्छी कंपनी का होना जरूरी है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- किसी अनुभवी तथा धार्मिक प्रवृत्ति के व्यक्ति से मुलाकात आपकी विचारधारा में भी सकारात्मक परिवर्तन लाएगी। तथा जीवन से जुड़े प्रत्येक कार्य को करने का बेहतरीन नजरिया प्राप्त होगा। आर्थिक स्थिति म...

और पढ़ें