पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पुतला दहन:दशहरे पर भाकियू ने 15 जगहों पर जलाया 10 सिर वाला केंद्र का पुतला

संगरूरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • मूनक व लहरा में किसानों ने 35 फीट ऊंचे पुतले पर लगाए केंद्र सरकार के मुखौटे

कृषि कानूनों के विरोध में किसानों का गुस्सा दिन प्रतिदिन बढ़ रहा है। रविवार को दशहरा पर भाकियू उगराहां की अगुआई में किसानों ने जिलेभर में 15 जगहों 10 सिर वाला केंद्र सरकार का पुतला जलाकर रोष जाहिर किया। किसानों ने जिलेभर के सभी ब्लाॅकों में दोपहर 12 से लेकर 3 बजे तक केन्द्र सरकार के खिलाफ रोष प्रदर्शन किए। सभी जगह 3 बजे पुतलों को आग के हवाले कर दिया गया।

सबडिवीजन संगरूर, सुनाम, लहरा, मूनक, धूरी, मालेरकोटला, भवानीगढ़, दिड़बा, अहमदगढ़ के विभिन्न शहरों और गांवों में किसान संगठनों ने अपने अपने स्तर पर रोष प्रदर्शन कर कृषि कानूनों के खिलाफ विरोध जताया। मालेरकोटला में किसानों का सबसे बड़ा प्रदर्शन हुआ। जहां हजारों की संख्या में किसानों व मुस्लिम भाईचारे के लोगों ने केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी की।

वहीं पिछले 25 दिनों से रेलवे स्टेशन पर धरने पर बैठे किसान संगठनों ने शहर में रोष मार्च कर महावीर चौक में केंद्र सरकार का पुतला जलाया। धरने में जान गंवाने वाले किसान मेघराज बावा के किसानों को मुआवजा देने की मांग को लेकर भाकियू उगराहां का लगातार चौथे दिन डीसी दफ्तर का घेराव जारी रहा।

भाकियू उगराहां के राज्य प्रधान जोगिंदर सिंह उगराहां, कार्यकारी प्रधान जसविंदर लौंगोवाल, डॉ. गुरशरण सिंह, औलख सिंह ने कहा कि मौजूदा समय में भी रावण युग खत्म नहीं हुआ है। बल्कि मोदी, अडाणी, अंबानी, बिरला आदि मौजूदा समय के रावण बन लोगों का खून चूस रहे हैं। पीएम नरेन्द्र मोदी को वहम है कि वह देश के लोगों पर अपने फैसले थोपते जाएंगे और लोग उन्हें चुपचाप स्वीकार कर लेंगे। परंतु पंजाब के लोग केंद्र को उसके फैसले बदलने के लिए मजबूर कर देंगे।

भाकियू बोली-जमीन को बचाने को हर कुर्बानी देने को तैयार

संगरूर जिला प्रधान अमरीक गंढूआ, गोबिंदर मंगवाल, गोबिंदर बडरूखां, धरमिंदर पिशौर, बहाल सिंह ढींडसा, जसवंत तोलावाल, दरबारा छाजला,जनक सिंह भूटाल, जगतार कालाझाड, मनजीत घराचों ने कहा कि केंद्र सरकार ने कृषि कानून लागू कर कार्पोरेट घरानों को पंजाब की जमीनों पर कब्जा करने के अधिकार दे दिए हंै। जिसे पंजाब के लोग किसी कीमत पर बर्दाशत नहीं करेंगे। अपनी जमीनों को बचाने के लिए पंजाबी हर कुर्बानी देने के लिए तैयार है।

कृषि कानूनों के कारण सभी त्योहार पड़े फीके

महावीर चौक में पंजाब किसान यूनियन के राज्य सचिव बलवीर जलूर, कुल हिंद किसान सभा पंजाब के इंदरपाल सिंह, भाकियू सिद्धूपुर के करनैल सिंह, भाकियू डकौंदा के श्यामदास, भाकियू राजेवाल के गुरमीत कपियाल व किरती किसान यूनियन के भूपिंदर लौंगोवाल ने कहा कि कृषि कानूनों के कारण त्योहार फीके पड़ने लगे हैं। त्योहार मनाने की बजाय किसान सड़कों पर रूलने को मजबूर हैं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- परिस्थिति तथा समय में तालमेल बिठाकर कार्य करने में सक्षम रहेंगे। माता-पिता तथा बुजुर्गों के प्रति मन में सेवा भाव बना रहेगा। विद्यार्थी तथा युवा अपने अध्ययन तथा कैरियर के प्रति पूरी तरह फोकस ...

और पढ़ें