पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

ठगी:शादी रचा विदेश जाने की चाह में ठगी के शिकार होने वाले लोगों को कानूनी सहायता देगी साका

संगरूरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • प्रेस कांफ्रेंस में एसोसिएशन अध्यक्ष बोले- नकली विवाह को कनाडा, आस्ट्रेलिया में मान्यता नहीं
  • प्रेस कांफ्रेंस में एसोसिएशन अध्यक्ष बोले- नकली विवाह को कनाडा, आस्ट्रेलिया में मान्यता नहीं

संगरूर एबराड कंसल्टेंट्स एसोसिएशन (साका) ने एलान किया है कि विदेश में की गई शादियों व अन्य मामलों में ठगी का शिकार हुए व्यक्तियों की एसोसिएशन मदद करेगी। ऐसी ठगी का शिकार हुए पीड़ित व्यक्तियों को मुफ्त कानूनी सहायता मुहैया करवाई जाएगी। यह मदद चाहे भारत में हो या विदेश में।

बुधवार को स्थानीय एक निजी होटल में प्रेस कान्फ्रेंस के दौरान एसोसिएशन ने इसका एलान किया। एसोसिएशन के प्रधान अमित अलीशेर ने कहा कि कुछ दिनों से विवाह करवाने के बाद लड़की द्वारा विदेश जाकर ससुराल परिवार से संपर्क तोड़ लेना और उन्हें धोखा देकर और विवाह करवाना आदि मामले सामने आ रहे हैं।

ऐसे धोखे का शिकार हुए कई नौजवानों ने खुदकुशी तक कर ली है। उन्होंने कहा एसोसिएशन ने लोक भलाई के उद्देश्य को मुख्य रखते हुए फैसला किया है कि ऐसी ठगी का शिकार हुए व्यक्तियों को मुफ्त कानूनी सहायता मुहैया करवाई जाएगी। यह मदद चाहे भारत में हो या विदेश में। इसके अलावा लोगों को भी जागरूक किया जाएगा कि वह ऐसे केस में न फंसे क्योंकि इस तरह के नकली विवाह को कनाडा, आस्ट्रेलिया में मान्यता नहीं है।

उन्होंने परिजनों से अपील की कि वह अपने बच्चों का सही विवाह करने के बाद ही उन्हें विदेश में भेजे। उन्होंने बताया कि अभिभावकों को भी इस बात का पता होना चाहिए कि विवाह करवाकर विदेश गए लड़के या लड़की को तब तक पीआर नहीं हो सकती जब तक उन्हें भारत से एनओसी नहीं मिल जाती। उन्होंने कहा नकली विवाह का एक बड़ा कारण अनाधिकृत सेंटर भी है, जिसे बंद करवाया जाए। इस मौके पंकज सेठी, सुखविंदर सिंह, अभय ग्रेवाल, गैरी सिंह, साहिल, सिमरन, यादविंदर निर्माण, सचिन, अंकित रस्तोगी, नितिन अलीशेर मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...