बैठक का आयोजन:जिम्पा ने सरहंद फीडर नहर में पड़ी दरार बंद कर नरमे और बागों के लिए पानी देने की दी हिदायत

जलालाबाद5 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
अधिकारियों व विधायकों से बैठक करते मंत्री ब्रह्म शंकर शर्मा जिम्पा। - Dainik Bhaskar
अधिकारियों व विधायकों से बैठक करते मंत्री ब्रह्म शंकर शर्मा जिम्पा।

पंजाब के माल, पुनर्वास और आपदा प्रबंधन, जल स्रोत, जल सप्लाई और सैनिटेशन मंत्री ब्रह्म शंकर शर्मा जिंपा ने कहा कि नहरों की टेलों तक किसानों को पूरा पानी पहुंचाया जाएगा। वह फाजिल्का जिले के दौरे के दौरान बातचीत कर रहे थे। इस मौके पर उनके साथ जलालाबाद के विधायक जगदीप कम्बोज गोल्डी, फाजिल्का के विधायक नरिंदर पाल सिंह सवना, बल्लूआना के विधायक अमनदीप सिंह गोल्डी मुसाफिर, डिप्टी कमिश्नर डॉ. हिमांशू अग्रवाल, एसएसपी भूपिंदर सिंह सिद्धू भी उपस्थित थे।

कैबिनेट मंत्री ने कहा कि नहरों की सफाई का काम भी जल्द करवाकर धान की बिजाई के लिए किसानों को पानी दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि इससे पहले सरहंद फीडर नहर की मरम्मत के काम का निरीक्षण करके आए हैं और अधिकारियों को निर्देश दिए कि नहर में पड़े दरार को बंद कर जल्द से जल्द किसानों को नरमे और बागों के लिए पानी दिया जाए।

ब्रह्मशंकर शर्मा जिम्पा ने बताया कि पंजाब के दक्षिणी पश्चिमी जिलों में नहरी पानी पर आधारित वाटर वर्कस प्रोजेक्टों और 1100 करोड़ रुपए खर्च करने की सरकार की योजना है। उन्होंने गांवों और शहरों के खराब पड़े आरओ सिस्टम भी जल्द ठीक करवाने का भरोसा दिया। उन्होंने कहा कि फाजिल्का जिले की छमाही नहरों को बारामासी करने की संभावनाओं का पता लगाया जाएगा, जिससे इन किसानों को सारा साल नहरी पानी दिया जा सके।

उन्होंने कहा कि पंचायती जमीनों से कब्जे छुड़ाने की तरह ही सरकारी खालों को ढहाकर अपनी, जमीनों में शामिल करने वालों से भी खालों की सरकारी जमीन से कब्जा छुड़ाया जाएगा। इस मौके पर एसपी अजय राज सिंह, एसडीएम रविन्द्र सिंह अरोड़ा, जिला प्रधान अरुण वधवा, दीप कम्बोज उपस्थित थे। यहां पहुंचने पर पुलिस की टुकड़ी ने उन्हें सलामी भी दी।

खबरें और भी हैं...