कोटकपूरा:ढैपई स्कूल गांव में बच्चों को चाइल्डलाइन टोल फ्री नंबर 1098 का महत्व बताया

कोटकपूरा2 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

नेचुरल केयर चाइल्डलाइन फरीदकोट टीम ने चाइल्डलाइन इंडिया फाउंडेशन के सहयोग से संचलित नेचुरल केयर चाइल्ड लाइन फरीदकोट टीम ने प्रभारी महिंदरपाल सिंह और स्कूल स्टाफ के सहयोग से स्कूल में जागरूकता कार्यक्रम करवाया। इसमें सांझ केंद्र जैतो के प्रभारी एएसआई सोम प्रकाश, थाना बाजाखाना की महिला मित्र सीनियर कांस्टेबल वीरपाल कौर व हरप्रीत कौर मौजूद रहे। एएसआई सोम प्रकाश इंचार्ज सांझ केंद्र जैतो ने सांझ केंद्र जैतो द्वारा प्रदान की जाने वाली सेवाओं और नशे के दुष्प्रभाव के बारे में जानकारी दी। इस संबंधी साहित्य भी वितरित किया।

सीनियर कांस्टेबल वीरपाल कोर और हरप्रीत कौर ने पुलिस हेल्पलाइन नंबर 112, 181 की कार्य व्यवस्था, मोबाइल का दुरुपयोग के बुरे प्रभाव और महिलाओं के बढ़ रहे शारीरिक, मानसिक शोषण संबंधी कानूनों की जानकारी दी।

इस दौरान चाइल्ड लाइन टीम कोऑर्डिनेटर सोनिया रानी ने स्कूली बच्चों को चाइल्ड लाइन के टोल फ्री नंबर 1098 के उपयोग की जानकारी देते हुए बताया कि इससे 0-18 वर्ष के आयु वर्ग के बच्चों को मदद मिलती है व इस पर सूचना देने वाले का नाम और पता गुप्त रखा जाता है। बच्चों को गुड टच व बैड टच के प्रति जागरूक किया गया। उन्होंने बच्चों को बाल विवाह और बाल श्रम के मामलों की जानकारी दी और कहा कि अगर किसी को ऐसी जानकारी को 1098 पर फोन कर देने की अपील की। इस दौरान बच्चों को सोशल मीडिया द्वारा ऑनलाइन खतरों से भी अवगत करवाया।

कार्यक्रम में गांव स्तरीय बाल संरक्षण कमेटी की बैठक भी करवाई, जिसमें गांव स्तरीय बाल संरक्षण समिति के सभी सदस्य और गांव के गुरुद्वारा साहिब के ग्रंथी उपस्थित रहे। बैठक में बाल संरक्षण और बाल विवाह के मुद्दे पर चर्चा हुई। वहीं गांव के गुरुद्वारा साहिब के ग्रंथी ने विश्वास दिलाया कि लड़का-लड़की के विवाह की रस्में उनकी सही आयु के दस्तावेज जांच कर ही की जाएगी। इस दौरान चाइल्ड लाइन टीम के सदस्य दीपक और स्कूल का समूह स्टाफ उपस्थित रहे।

खबरें और भी हैं...