मूल्यांकन:प्राइमरी साक्षरता और संख्या ज्ञान पर आधारित दूसरी का मूल्यांकन जारी

फाजिल्का3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

प्राइमरी स्तर के विद्यार्थियों की प्रारंभिक कुशलताओं को मजबूत करने के लिए भारत सरकार के शिक्षा मंत्रालय द्वारा जारी किए गए निपुण भारत मिशन को आगे चलाते एससीईआरटी पंजाब द्वारा राज्य के स्कूलों में पढ़ते दूसरी क्लास के विद्यार्थियों की प्राथमिक कुशलताओं की जांच करने के लिए सैंपल सर्वे करवाया जा रहा है।

इसमें जिला फाजिल्का के 30 और ब्लाॅक फाजिल्का 2 के 7 स्कूलों की सैंपलिंग की जा रही है। इस संबंधी जानकारी देते ब्लाॅक शिक्षा अधिकारी फाजिल्का 2 सुखविन्दर कौर ने बताया कि इस सर्वे का उद्देश्य विद्यार्थियों के मूलभूत स्तरों की जांच करके भविष्य में शिक्षा को और प्रभावशाली और कारगर बनाने और शिक्षा की भविष्य की जरूरतों के लिए रोडमैप तैयार करना है।

इस संबंधी बीएमटी वरिन्दर कुक्कड़ और संजीव यादव ने बताया कि प्राइमरी शिक्षा हमारी स्कूल शिक्षा की प्रारंभिक कढ़ी है। कोरोना महामारी कारण स्कूल लम्बे समय तक बंद रहने कारण विद्यार्थियों की पढ़ाई में आई रुकावट को तोड़ने और भविष्य में शिक्षा सुधार के लिए योजना तैयार करने के लिए यह मूल्यांकन सहायक होगा।

सरकारी प्राइमरी स्कूल बाधा में जारी सर्वे का निरीक्षण करने पहुंचे बीपीईओ मैडम सुखविन्दर कौर ने बताया कि यह सर्वे एक फौन एप द्वारा आॅनलाइन किया जा रहा है, जिसके डाटे को स्टेज एजेंसी द्वारा भी माॅनिटर किया जा रहा है। इस मौके पर स्कूल प्रमुख मीनाक्षी कुक्कड़ और समूह स्टाफ मौजूद था।

खबरें और भी हैं...