एसएसपी ने पुलिस लाइन की बिल्डिंग का रूम खोला:ठंड में खुले शेड में बच्चों को पढ़ते देख था, बैठने के लिए गद्दे व एलईडी की व्यवस्था की

फाजिल्का12 दिन पहलेलेखक: संजीव झांब
  • कॉपी लिंक

पंजाब पुलिस के बारे में सोचते ही अक्सर दिमाग में एक कड़क व कठोर व्यवहार वाले पुलिस मुलाजिमों की छवि बनती है लेकिन फाजिल्का के एसएसपी का लिया फैसला एक बारगी पुलिस की छवि को लेकर दोबारा सोचने पर मजबूर करता है। कड़ाके की ठंड के बीच लेबर शेड में निर्धन बच्चों के लिए चलाए जा रहे ट्यूशन सेंटर में पढ़ते बच्चों को देखकर एसएसपी फाजिल्का भूपिंदर सिंह का दिल इस कदर पसीजा की उन्होंने उक्त बच्चों के लिए न सिर्फ पुलिस लाइन की बिल्डिंग के द्वार खोल दिए बल्कि उनके बैठने के लिए गद्दे व पढ़ने के लिए एलईडी और अन्य हर संभव सहायता देने का ऐलान कर दिया।

रोबिनहुड आर्मी के आनंद जैन ने बताया, वह वर्ष 2019 से यह निशुल्क टयूशन सेंटर चला रहे है जिसमें शहर की स्लम बस्ती, भैरो बस्ती व हड्डारोड़ी के सरकारी स्कूलों के 1-9वीं कक्षा तक पढ़ने वाले 35 से 40 बच्चे निरंतर 4 वर्षो से आ रहे हैं। अकैडमिक प्रभारी वंशु मक्कड़ सेंटर का प्रबंध जबकि गीता शर्मा के अलावा कई अन्य सदस्य बारी-बारी से सेंटर में अपनी डयूटी देते हैं। फाजिल्का पुलिस के इस मानवीय फैसले के सेंटर में पढ़ने वाले बच्चों समेत उनके अभिभावक भी खुश हैं। सुखविंदर सिंह, विजय कुमार, दया प्रसाद, पिंटू राम, मनजीत सिंह आदि अभिभावकों उनके जैसे निर्धन परिवारों के बच्चों के लिए पुलिस लाइन के दरवाजे खोलना अपने आप में एक प्रशंसनीय कार्य है।

खबरें और भी हैं...