मुंशी के बेटे ने गैंगस्टर के नाम पर मांगी फिरौती:फतेहगढ़ चूड़िया नगर काउंसिल के पूर्व प्रधान से 5 लाख मांगने वाला गिरफ्तार

बटाला2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस की गिरफ्त में आरोपी। - Dainik Bhaskar
पुलिस की गिरफ्त में आरोपी।

फतेहगढ़ चूड़ियां नगर काउंसिल के पूर्व प्रधान सुरिंदर कुमार उर्फ छिंदी से पांच लाख रुपए फिरौती मांगने वाले को काबू कर लिया। पकड़े गए युवक की पहचान आशीष कुमार उर्फ कालू निवासी कश्मीर गार्डन (अमृतसर) के रूप में हुई। आशीष ने पुलिस को बताया कि उसकी सुरिंदर कुमार से पैसों को लेकर पुरानी रंजिश है और इसी वजह से उसने धमकी की।

बटाला के एसपी हरजीत सिंह धालीवाल के अनुसार, सुरिंदर कुमार उर्फ छिंदी को 11 जून को फिरौती के लिए कॉल आई। छिंदी के पुलिस शिकायत करने के बाद मामले में की जांच के लिए एक टीम बनाई गई। इसी टीम ने साइबर सेल की मदद से आशीष को फतेहगढ़ चूड़ियां दाना मंडी से उस समय पकड़ा जब वह बस का इंतजार कर रहा था।

आरोपी का पिता सुरिंदर कुमार की ट्रांसपोर्ट में पार्टनर

पुलिस के मुताबिक, पूछताछ में आशीष ने बताया कि उसके पिता नरेश कुमार वर्ष 1984 से सुरिंदर कुमार के पास उसकी ट्रांसपोर्ट में मुंशी का काम करते थे। वर्ष 2022 में उसके पिता ने सुरिंदर कुमार की ट्रांसपोर्ट में पार्टनरशिप डाल ली और साथ में मुंशी का काम भी करते रहे। पार्टनरशिप के बाद सुरिंदर कुमार न तो ट्रांसपोर्ट के काम में दिलचस्पी रखने लगा और न ही कोई काम करता।

घाटे की वजह से पिता को पैरालाइज

आशीष के अनुसार, ट्रांसपोर्ट में घाटा होने के कारण उसके परिवार की हालत बुरी हो गई। तनाव की वजह से उसके पिता नरेश कुमार को पैरालाइज का अटैक आ गया और वह बिस्तर पर आ गए। उनका परिवार सारे हालात की जानकारी सुरिंदर कुमार को देता रहा मगर उसने सहयोग करने की जगह परेशान करना शुरू कर दिया। इसके बाद उसके दिमाग में फिरौती मांगने का ख्याल आया।

जग्गू के गैंग का मेंबर बता मांगी रकम

आशीष ने बताया कि 11 जून को उसने खुद को जग्गू भगवानपुरिया गैंग का मेंबर बताकर सुरिंदर कुमार को फोन किया और पांच लाख रुपए लेकर अमृतसर में फतेहपुर जेल के पास आने को कहा। ऐसा नहीं करने की सूरत में सुरिंदर कुमार को उसका बेटा उठा लेने की धमकी दी गई।

बटाला के एसपी हरजीत सिंह धालीवाल ने बताया कि बटाला के एसएसपी राजपाल सिंह ने सुरिंदर कुमार की शिकायत मिलने के बाद एक स्पेशल टीम बनाई। इस टीम ने साइबर सेल की मदद से फिरौती के लिए की जाने वाली कॉल को ट्रेस किया जिसके बाद आशीष फतेहगढ़ चूड़िया दाना मंडी से पकड़ा गया। उसने अपना जुर्म कबूल कर लिया है।

मूसेवाला मर्डर के बाद आया आइडिया

पंजाबी सिंगर सिद्धू मुसेवाला की हत्या के बाद पूरे पंजाब में गैंगस्टरों का नाम लेकर बहुत सारे लोगों को फोन पर धमकियां दी गईं। इनमें से बहुत सारी कॉल्स फेक निकलीं। इससे जुड़ी खबरें मीडिया में आने के बाद ही आशीष को सुरिंदर कुमार से फिरौती मांगने का आइडिया आया। आशीष ने भी खुद को जग्गू भगवानपुरिया गैंग का मेंबर बताकर सुरिंदर कुमार से पैसे मांगे।