गुरदासपुर के SP हेड क्वार्टर गिरफ्तार:गुरमीत सिंह पर सरकारी कोठी में बुलाकर गर्भवती महिला से दुष्कर्म का आरोप

गुरदासपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

पंजाब पुलिस ने गुरदासपुर के SP हेडक्वार्टर गुरमीत सिंह को मोगा से एक गर्भवती महिला से दुष्कर्म के आरोप में गिरफ्तार किया है। वारदात को लेकर पीड़िता की शिकायत पर करीब ढ़ाई महीने चली एसआईटी की जांच के बाद 2 जुलाई को एसपी के खिलाफ केस दर्ज किया गया था। आरोप है कि एसपी ने दहेज प्रताड़ना का केस दर्ज करने का झांसा देकर महिला से डरा धमका कर दो बार दुष्कर्म किया। एसपी को गिरफ्तार करने के बाद पुलिस अधिकारी अब अगली कार्रवाई में लगे हैं।

सरकारी कोठी पर बुलाकर रेप

बताया गया है कि दीनानगर की एक महिला ने पुलिस हैड क्वार्टर चंडीगढ़ में शिकायत भेज कर कहा था कि उसने दहेज प्रताड़ना के मामले में एसएसपी गुरदासपर को शिकायत दी थी। जिसके संदर्भ में एसपी गुरमीत सिंह सिद्धू ने उसे अपनी कोठी में बुलाया। दहेज प्रताड़ना के मामले में केस दर्ज करवाने का झांसा देकर और अपने पद का दुरुपयोग कर एसपी ने उसे डरा धमका कर दो बार जबरदस्ती शारीरिक संबंध बनाए। वह उस समय गर्भवती थी। इसके बाद भी एसपी उसे ऑडियो और वीडियो काल के जरिए परेशान करने लगा।

इन सवालों की तलाश में पुलिस

एसपी के खिलाफ दर्ज एफआईआर में इस बात का भी जिक्र है कि एसपी गुरमीत सिंह ने पहली बार संबंध बनाने के बाद लड़की के किसी पहचान वाले को धमकाया था तो उसने लड़की को दोबारा अपनी सरकारी कोठी पर मिलने के लिए क्यों बुलाया। यदि एसपी वॉट्सऐप काल में युवती को बेटी अथवा बच्ची कहता था तो उसे अश्लील वीडियो और मैसेज क्यों भेजता था और गंदी व अश्लील बातें क्यों करता था।

जांच आफिसर नहीं था एसपी

एसएसपी गुरदासपुर के पत्र नंबर 763 के मुताबिक एसपी गुरमीत सिंह कभी भी युवती का जांच आफिसर नहीं था और न ही उसे कोई जांच मार्क हुई थी। वह युवती को धोखे में रख कर शारीरिक संबंध बनाता रहा। वहीं एसपी की ओर से युवती द्वारा पहले भी धारा 376 के तहत दर्ज करवाई गई एफआईआर का जिक्र किया गया। लेकिन इसे दरकिनार करते हुए जांच में नए केस के साथ उनका कोई संबंध न होने और सुप्रीम कोर्ट के दिशानिर्देश अनुसार पास्ट कंडेक्ट अथवा करेक्टर का कोई महत्व न होने का हवाला दिया गया है।

एसपी की गिरफ्तारी को पहुंचे डीएसपी

शिकायत में देरी का कारण युवती द्वारा अपने पति और ससुराल परिवार के खिलाफ थाना दीनानगर में 20 मई को धारा 498ए के तहत दर्ज केस के लिए जद्दोजहद करना बताया गया है। केस दर्ज होने के बाद एसपी गुरमीत सिंह को अमृतसर रूरल और मोगा पुलिस की ओर से गिरफ्तार किया गया है। एसआईटी के सदस्य डीएसपी रविंदर सिंह और इंस्पेक्टर हरजीत कौर एसपी गुरमीत सिंह को गिरफ्तार करने के लिए मोगा पहुंचे थे। क्योंकि एसपी वहां एक केस में पेशी के लिए गए हुए थे।

घर से किया गिरफ्तार

एसएसपी मोगा गुलनीत खुराना ने बताया कि गुरदासपुर में एसपी गुरमीत सिंह के खिलाफ मामला दर्ज है। आज उनकी लोकेशन मोगा में ट्रेस हुई थी। एसपी गुरमीत सिंह को उसके घर से गिरफ्तार कर संबंधित पुलिस को सौंप दिया गया है। वहीं एसएसपी देहात अमृतसर स्वर्णदीप सिंह ने कहा कि गुरमीत सिंह की गिरफ्तारी के बाद अगली कार्रवाई की जा रही है।

खबरें और भी हैं...