धर्म-कर्म:महंत किशोरी दास ने कहा- मनुष्य जीवन का असल मकसद प्रभु भक्ति से ही प्राप्त हो सकता है

टांडा उड़मुड़13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

हर वर्ष की तरह इस वर्ष भी बाबा हरगोबिन्द दास जी की याद को समर्पित बाबा हरगोबिन्द दास समाध उड़मुड़ में समाज के गद्दीनशीन महंत किशोरी दास जी महाराज की अगुवाई में सर्जन सिंह, रतन सिंह, गुरबचन सिंह, बलजीत सिंह, सुरिंदर सिंह, उल्फ़त राय और सैनी परिवार द्वारा श्रद्धापूर्वक वार्षिक भंडारा सम्पूर्ण किया गया। इसमें दूर दराज से आए श्रद्धालुओं ने बाबा जी के दरबार में अपनी हाजिरी लगवाई। वहीं, भंडारे की शुरुआत महंत किशोरी दास जी महाराज द्वारा विधिपूर्वक हवन यज्ञ से की गई।

महंत किशोरी दास जी महाराज ने अपने प्रवचनों द्वारा बाबा जी की जीवनी पर रोशनी डालते हुए श्रद्धालुओं को नाम सिमरन के साथ जुड़ने की प्रेरणा दी। उन्होंने कहा कि यह मनुष्य जीवन बड़ी मुश्किल से प्रभु की कृपा से मिलता है, इसीलिए ज्यादा से ज्यादा समय प्रभु भक्ति में गुजारना चाहिए, ताकि इस मनुष्य जीवन के असल मकसद को प्राप्त करके प्रभु की शरण हासिल की जा सके।

महंत किशोरी दास जी द्वारा आए हुए श्रद्धालुओं को सिरोपा डालकर सम्मानित किया गया। सारा दिन बाबा जी का अटूट लंगर बांटा गया। इस मौके पर शिवसेना पंजाब के उत्तरी भारत प्रमुख मिक्की पंडित, अवाधस पंजाब के चेयरमैन गगन भट्टी, राहुल खन्ना, विकास जसरा, शिवम वैद, जिंदर बनियाल, सुधांशु मल्होत्रा और अन्य श्रद्धालुओं ने बाबा के दरबार में माथा टेक कर बाबा जी का आशीर्वाद प्राप्त किया।

खबरें और भी हैं...