पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

आनंदपुर साहिब:लालच में शराब तस्कर साथी का कत्ल किया, उसकी एक्सयूवी पर जाली नंबर लगाकर घूम रहे थे आरोपी

आनंदपुर साहिब2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • आनंदपुर साहिब पुलिस ने कत्ल केस सुलझाया, 2 नाबालिग सहित 4 गिरफ्तार, पूछताछ में माने...

आनंदपुर साहिब पुलिस ने एक कत्ल के मामले को सुलझाया है। आनंदपुर साहिब पुलिस को एक महीना पहले एक लाश नहर से मिली थी जिसकी हाथ पीछे बांधे हुए थे। पुलिस ने मरने वाले की पहचान करने के बाद जब जांच शुरू की तो 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया, जिनमें दो नाबालिग हैं। पुलिस के मुताबिक मरने वाले और गिरफ्तार किए आरोपियों पर शराब तस्करी के केस दर्ज हैं और कत्ल की वजह भी शराब तस्कर ही रही है। पुलिस के अनुसार आरोपियों ने कबूल किया है कि उन्होंने रुपए और गाड़ी के लालच में कत्ल करके लाश नहर में फेंकी थी। आरोपी मरने वाले की कार पर जाली नंबर लगाकर घूम रहे थे। एसपी इन्वेस्टिगेशन अजिंदर सिंह तथा डीएसपी रमिंदर सिंह काहलों ने बताया कि 30 जुलाई को भाखड़ा नहर गंगूवाल से एक शव मिला था। मरने वाले के बाजू पीछे की ओर बांधे हुए थे। शव को कब्जे में लेकर थाना प्रभारी रुपिंदर सिंह ने आनंदपुर साहिब के साथ लगते हिमाचल के क्षेत्रों में भी उक्त व्यक्ति का फोटो पहचान के लिए भेजी। इसके बाद हिमाचल के ऊना से मनोज कुमार ने मरने वाली की पहचान अपने भाई विनोद कुमार पुत्र गोपाल कृष्ण वार्ड नंबर 2 निवासी ऊना के रूप में की थी।

उसने पुलिस को बताया कि उसका भाई 27 जुलाई को अपनी एक्सयूवी कार में सतपाल सिंह सत्तू निवासी जांदला को मिलने गया था। उसके उपरांत वह घर वापस नहीं आया। पुलिस द्वारा की गई जांच के दौरान सतपाल सिंह उर्फ सत्तू से कड़ाई के साथ पूछताछ करने पर उसने अपना गुनाह कबूल कर लिया और उसका साथी भी पकड़ा गया, जिसकी पहचान टोनी निवासी बेला रामगढ़ के रूप में हुई है। दोनों आरोपी मृतक की एक्सयूवी गाड़ी पर जाली नंबर प्लेट लगाकर घूम रहे थे।

आरोपियों से मृतक की एक घड़ी भी पुलिस ने की बरामद
डीएसपी ने बताया कि आरोपियों को गिरफ्तार कर अदालत में पेश करने के लिए कार्रवाई शुरू कर दी है। आरोपियों से विनोद कुमार की एक घड़ी भी बरामद की गई। थाना प्रभारी ने बताया कि गिरफ्तार किए सतपाल सिंह पर शराब तस्करी के कई मामले दर्ज हैं। जबकि मरने वाले विनोद पर भी शराब तस्करी के विभिन्न थानों में मामले दर्ज हैं। थाना प्रभारी ने बताया कि इस केस में 2 बच्चे नाबालिग होने के कारण उन्हें लुधियाना के जेल में भेज दिया गया है।

विनोद की गाड़ी में खुद करना चाहते थे तस्करी
डीएसपी रमिंदर सिंह काहलों ने बताया कि आरोपियों ने पूछताछ में माना कि वह मिलकर शराब तस्करी का काम करते थे। विनोद के पास कुछ रुपए और गाड़ी थी। आरोपी इसी के लालच में गए। उन्होंने विनोद का कत्ल करके लाश नहर में फेंक दी और उसकी कार पर जाली नंबर लगा लिया। आरोपियों ने माना कि वह विनोद की कार में खुद शराब तस्करी करना चाहते थे।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आप अपने विश्वास तथा कार्य क्षमता द्वारा स्थितियों को और अधिक बेहतर बनाने का प्रयास करेंगे। और सफलता भी हासिल होगी। किसी प्रकार का प्रॉपर्टी संबंधी अगर कोई मामला रुका हुआ है तो आज उस पर अपना ध...

और पढ़ें