पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

नारेबाजी की:पीएसीएल से काम न मिलने के विरोध में ट्रक मालिकों ने पुतला फूंका

आनंदपुर साहिब13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • कहा- ट्रक मालिक अपना हक लेकर रहेंगे, गांव-गांव पुतले फूंकेंगे

पीएसीएल के निजीकरण के बाद माल की ढुलाई बाहर की गाड़ियों से करवाने के विरोध में रविवार को भी ट्रक मालिकों की ओर से पुतला फूंका गया। यहां सुरजीत सिंह ढेर ने कहा कि इलाके के 120 गांव के करीब 800 ट्रक और टैंकर मालिक पांच दशकों से अपनी रोजी ट्रांसपोर्ट सोसायटी से कमा रहे हैं।

मगर पीएसीएल फैक्ट्री के निजीकरण के बाद अब ट्रक मालिकों को काम नहीं मिल रहा है। इस मसले का कोई हल न होने पर ट्रक मालिक 9 मई से संघर्ष कर रहे हैं। ट्रक मालिक सुरजीत सिंह ढेर, करतार सिंह, बलवीर सिंह का कहना है कि ट्रक मालिक अपने हक लेकर रहेंगे। पंजाब सरकार ने घर-घर रोज़गार देने का वायदा किया था लेकिन रोज़गार छीना जा रहा है। इसके लिए गांवों के लोगों को जागरूक करने के लिए पंजाब सरकार के गांव-गांव पुतले फूंके जा रहे हैं। इस कड़ी के अंतर्गत आज गांव बंगा, गंगूवाल बस स्टैंड, लंग मजारी, चंडेसर, महरौली, मथुरा, खमेड़ा, महैण और ढेर गांव में पुतला फूंका गया।

इस मौके पर जत्थेदार संदीप सिंह कलोता, नरिंदर कुमार, हरमिंदरपाल सिंह, सुरिंदर सिंह, तेजपाल सिंह पप्पा, परमिंदर सिंह संधू, दर्शन सिंंघ, बीडी धर्मानी, चरनजीत सिंह, सिकंदर सिंह, गुरमेल सिंह, हरजीत सिंह, रमेश सिंह, जसवंत सिंह, भाग सिंह, जसवंत सिंह, निर्मल सिंह, प्यारा सिंह, गुरदीप सिंह, सुरिंदरपाल सिंह, रणबीर सिंह, रणबीर सिंह बेला, मनजीत सिंह गिल, कुलदीप सिंह, बहादर सिंह डोड, कुलविंदर सिंह भंगल, बरजिंदर सिंह डोड समेत और ट्रक मालिक उपस्थित थे।

खबरें और भी हैं...