पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

राहत:विरास्त-ए-खालसा सैलानियों के लिए 50 फीसदी क्षमता के साथ खुला 4200 लोगों की है कैपेसिटी, पहले दिन एक हजार के करीब लोग पहुंचे

आनंदपुर साहिबएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • मास्क लगाना, सोशल डिस्टेंसिंग, सैनिटाइजर लाजमी, तापमान चेक करने के बाद ही मिल रही अजायब घर में एंट्री

पंजाब सरकार द्वारा लिए गए फैसले के अनुसार कोविड-19 के मद्देनजर विरास्त-ए-खालसा 50 फीसदी क्षमता के साथ शुक्रवार को सैलानियों के लिए खोल दिया गया है। विरासत-ए-खालसी कैपेसिटी 4200 लोगों की है। यहां पर पहले दिन 1 हजार के करीब सैलानियों ने विरास्त-ए-खालसा के दर्शन किए।

बता दें कि कोरोना महामारी की दूसरी लहर के चलते 25 मार्च 2021 को विरासत-ए-खालसा सैलानियों के लिए बंद कर दिया गया था। सरकार द्वारा जारी गाइडलाइन के अनुसार अब 25 जून तक 50 फीसदी कैपेसिटी से इसे दोबारा खोला गया है। इस संबंधी कार्यकारी इंजीनियर भुपिंदर सिंह चाना ने बताया कि विरास्त-ए-खालसा म्यूजियम संगत के लिए खोल दिया गया है। सेहत विभाग की हिदायतों का पालन करते हुए लोगों को मास्क लगाना, सोशल डिस्टेंसिंग, सैनिटाइजर और तापमान चेक करने के उपरांत ही अंदर जाने दिया जा रहा है।

दुकानदारों के चेहरे पर मुस्कुराहट लौटी, व्यापार चलने की उम्मीद
वहीं, विरास्त-ए-खालसा खुलने से आसपास के दुकानदारों के लिए भी अच्छी खबर है। क्योंकि वह भी पिछली 25 मार्च से दुकानें बंद कर बैठे हुए थे। रोजाना नाममात्र श्रद्धालु ही गुरुघर में नतमस्तक होने के लिए आते थे जबकि विरास्त-ए-खालसा के खुलने से फिर से दुकानदारों के चेहरों पर मुस्कुराहट आ गई।

खबरें और भी हैं...