पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

नहाने गए युवक डूबे, मातम पसरा:घर से बोलकर गए कि घूमने जा रहे,नहाने चले गए 4 युवक डूबे, ढाई घंटे बाद गोताखोरों को मिले शव

बलाचौर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
दरिया में डूबने से मरने वाले युवकों के पुलिस की गाड़ी में रखे गए शव। - Dainik Bhaskar
दरिया में डूबने से मरने वाले युवकों के पुलिस की गाड़ी में रखे गए शव।
  • सतलुज दरिया में नहाने गए बलाचौर के 4, परिजन बोले-मरने वाले 17-18 साल के, गर्मी के कारण गए थे नहाने

दरिया सतलुज में साथियों संग नहाने गए बलाचौर के चार युवकों की पानी में डूबने से मौत हो गई है। पुलिस की ओर से चारों नौजवानों के शवों को दरिया से निकाल लिया गया है। मरने वाले नौजवानों की पहचान वार्ड नंबर 4 निवासी हरदीप कुमार, संदीप कुमार, हैप्पी व वार्ड नंबर 7 निवासी नितिन के रुप में हुई है।

मृतकों की उमर 17-18 वर्ष के बीच बताई जा रही है। हादसे के संबंध में जानकारी देते हुए थाना सदर बलाचौर पुलिस के एसएचओ अवतार सिंह ने बताया कि बलाचौर के अलग-अलग वार्डों से संबंधित करीब 15-16 नौजवान दोपहर के समय दरिया सतलुज के ओलियापुर कांप्लेक्स क्षेत्र में नहाने के लिए गए थे। पता चला है कि नहाते-नहाते चार युवक गहरे पानी में चले गए, जिस वजह से पानी में डूबने से उनकी मौत हो गई। पुलिस मौके पर पहुंची व गोताखोरों की मदद से मृतकों के शवों को पानी से निकाला।

विभिन्न वार्डों से 15-16 युवक गए थे नहाने

मिली जानकारी के अनुसार बलाचौर क्षेत्र में बिजली कट था। जबकि इन दिनों भीषण गर्मी पड़ रही है। ऐसे में दोपहर करीब 12-1 बजे के करीब बलाचौर के अलग-अलग वार्डों से संबंधित युवक इकट्‌ठे होकर दरिया सतलुज पर नहाने के लिए निकल गए। हालांकि बताते हैं कि युवकों की ओर से घर पर यही कहा गया था कि वे भद्दी क्षेत्र में घूमने जा रहे हैं। जबकि हादसा दोपहर करीब 3-4 बजे के बीच बताया जा रहा है।

नितिन के डूबने के बारे में नहीं था पता

चारों युवक दरिया के बीच बने टापू पर नहाने के लिए चले गए थे। इसलिए वे कौन-कौन थे सभी को अच्छे से पता नहीं चल पा रहा था। हालांकि जब तीन युवकों के शव पानी से निकाले गए तो नितिन नामी युवक के पारिवारिक सदस्यों ने बताया कि नितिन के कपड़े किनारे पर पड़े हैं, मगर वह न तो घर वापस आया है और न ही उसके बारे में कोई जानकारी है। बाद में लापता युवक नितिन को भी उसी टापू के आस-पास पानी में ढूंढा गया। जहां से अन्य युवकों के शव मिले थे। पहले शवों के मिलने के करीब आधा घंटा बाद ही युवक नितिन का शव पानी से मिल पाया।

दरिया में बने अस्थायी टापू से चले गए पार, जहां वे चारों डूबे

सभी युवक दरिया के किनारे पर नहा रहे थे, मगर वहां पानी कम गहरा था। जिसके चलते युवक दरिया में ही रेत के बने अस्थायी टापू जो किनारे से करीब 200 मीटर दूरी पर था के पार चले गए। वहीं वे गहरे पानी में डूब गए। किनारे पर नहा रहे युवकों को टापू के पार नहाने के लिए गए अपने साथियों के डूबने के बारे में कुछ देर बाद ही पता चला। जिसके चलते वे बलाचौर पहुंच और युवकों के परिजनों को सूचित किया।

खबरें और भी हैं...