पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

किसान जत्थेबंदियों ने बटाला में भाजपा कार्यालय घेरा:किसानों ने भाजपा दफ्तर पर 1 घंटे की नारेबाजी कृषि कानूनों की कापियां फूंकी, पुलिस रही तैनात

बटाला6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
भाजपा जिलाध्यक्ष की कोठी के बाहर प्रदर्शनकारियों को रोकती पुलिस। - Dainik Bhaskar
भाजपा जिलाध्यक्ष की कोठी के बाहर प्रदर्शनकारियों को रोकती पुलिस।
  • संयुक्त किसान मोर्चे के आह्वान पर किसान जत्थेबंदियों ने बटाला में भाजपा कार्यालय घेरा
  • किसान नेता बोले-अपनी मांगों को पूरा करवाने के लिए हर संघर्ष करेंगे
  • भाजपा जिलाध्यक्ष की कोठी का घेराव कर केंद्र के खिलाफ की नारेबाजी

संयुक्त किसान जत्थेबंदियों ने कृषि कानूनों के विरोध में जालंधर रोड पर स्थित भाजपा कार्यालय के बाहर एक घंटा धरना-प्रदर्शन पकिया। इस दौरान सैकड़ों की संख्या में किसान बटाला में भाजपा कार्यालय के बाहर पहुंचे। वहीं, पुलिस प्रशासन की तरफ से धरने प्रदर्शन में कोई अप्रिय घटना न घटे, इसके लिए डीएसपी सिटी परविंदर कौर की अध्यक्षता में भारी पुलिस बल भाजपा कार्यालय के बाहर तैनात रहा।

वहीं, कुछ समय के लिए कुछ किसानों ने भाजपा नेता नरेश के घर के बाहर भी प्रदर्शन किया। किसान-मजदूर संघर्ष कमेटी के प्रधान हरभजन सिंह वैरोनंगल ने बताया कि संयुक्त किसान मोर्चों के आह्वान पर विभिन्न किसान जत्थेबंदियों के पदाधिकारी बटाला भाजपा कार्यालय का घेराव करने पहुंचे हैं।

वहीं, किसान हरविंदर सिंह खजाला, बलविंदर सिंह , प्रकट सिंह ने कहा कि अपने हकों के लिए 6 माह से किसान दिल्ली आंदोलन में बैठे हुए हैं। केंद्र सरकार तानाशाही रवैया अपना रही है। किसान अपनी मांगों को पूरा करवाने के लिए अंतिम सांसों तक संघर्ष करेंगे। किसानों ने भाजपा कार्यालय के बाहर कृषि कानूनों की कापियां जलाकर रोष प्रदर्शन किया।

कृषि कानूनों के एक साल पूरे होने पर निकाला रोष मार्च

पिछले साल पांच जून को केंद्र सरकार कृषि कानूनों को लेकर आई थी, इसे शनिवार को एक साल पूरा हो गया है। इसी संदर्भ में संयुक्त किसान मोर्चे के बुलावे पर पूरे देश में भाजपा के विधायकों/सांसदों के दफ्तरों/घरों के बाहर रोष प्रदर्शन कर कृषि कानूनों की प्रतियां जलाई गईं।

गुरदासपुर में कोई भाजपा विधायक/सांसद या बड़ा नेता/दफ्तर न होने के चलते किसान मोर्चे के संगठनों ने रेलवे स्टेशन में एकत्र की और शहर की सड़कों पर रैली करने उपरांत कोर्ट कांप्लेक्स व डीसी दफ्तर के बाहर कृषि कानूनों की कापियां जलाकर प्रदर्शन किया।

बड़ी संख्या में एकत्र होकर किसानों, मजदूरों, मुलाजिमों का नेतृत्व एसपी सिंह गौसल, सुखदेव सिंह गौसल, कर्म सिंह, सलविंदर सिंह, मेजर सिंह, रोड़ावाली, मक्खन सिंह तिब्बड़ और पलविंदर सिंह ने संयुक्त रूप से किया।

उधर, किसान मजदूर संघर्ष कमेटी के जत्थे ने भारतीय जनता पार्टी जिलाध्यक्ष परमिंदर सिंह गिल की कोठी का घेराव किया। निवास के बाहर प्रदर्शनकारियों ने केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर रोष प्रदर्शन किया। वहीं, भाजपा जिलाध्यक्ष की कोठी के बाहर पुलिस फोर्स ने बेरिकेड्स लगाकर प्रदर्शनकारियों को आगे जाने से रोक लिया। इस पर किसानों ने कोठी के बाहर कृषि कानूनों की प्रतियां जलाईं।

खबरें और भी हैं...