पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

99 साल की पुष्पावती को कोरोना पर जीत के पुष्प:पोते के संपर्क में आने पर 26 अगस्त को हुई थीं पॉजिटिव, निगेटिव आने पर स्वास्थ्य विभाग ने किया सम्मानित

बटाला15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
कोरोना को मात देने वाली 99 वर्षीय पुष्पावती सेखड़ी को सम्मानित करते एसएमओ संजीव भल्ला व अन्य।
  • एसएमओ संजीव भल्ला बोले- दादी दृढ़ इच्छाशक्ति से ही हुईं स्वस्थ

साल की पुष्पावती सेखड़ी ने घर पर रहकर अपनी दृढ़ इच्छाशक्ति से कोरोना को हराकर सबको आश्चर्यचकित कर दिया है। इस केस से न केवल स्वास्थ्य कर्मियों को बल्कि हर व्यक्ति को यह सीखने की जरूरत है कि किसी भी बीमारी को आप हरा सकते हैं बशर्ते आप घबराएं नहीं और उस स्थिति का डटकर सामना करें। इससे भी बड़ी बात यह रही कि उन्होंने कोरोना नियमों का पालन किया।

उनको जिस तरह की डाइट लेने के लिए कहा गया था, वह उसे लगातार लेती रहीं। आज नतीजा आप सबके सामने है कि वह बिल्कुल स्वस्थ हैं। सारे जिले के सामने पुष्पावती मिसाल हैं। सभी को इनसे सीख लेनी चाहिए और कोरोना के खिलाफ लड़ाई में अपना योगदान देना चाहिए। -जैसा एसएमओ संजीव भल्ला ने पुष्पावती को सम्मानित करते कहा।

12 सितंबर को हुए टेस्ट में रिपोर्ट आई कोरोना निगेटिव

जिला गुरदासपुर में रोजाना कोरोना पॉजिटिव केस सामने आने से सेहत विभाग, प्रशासनिक अधिकारियों और लोगों में चिंता का माहौल है। ऐसे तनाव वाले माहौल में भी बटाला की रहने वाली और कौंसिल के प्रधान रह चुके सुभाष सेखती की 99 वर्षीय मां पुष्पावती सेखड़ी ने कोरोना को मात देकर सबको चकित कर दिया है।

पुष्पावती सेखड़ी ने पॉजिटिव आई कोरोना रिपोर्ट को अपने सकारात्मक विचारों से निगेटिव कर दिया है। उन्होंने घर पर ही क्वारेंटाइन रहकर हेल्दी डाइट ली और अब बिलकुल ठीक हैं। बुजुर्ग महिला को अपने पोते से कोरोना हुआ था। वहीं सिविल अस्पताल के एसएमओ संजीव भल्ला ने सेहत टीम के साथ पुष्पावती से मुलाकात कर उनको सम्मानित किया है। पुष्पावती के पोते अरविंद सेखड़ी ने बताया कि उनकी और दादी की कोरोना रिपोर्ट 26 अगस्त को पॉजिटिव आई थी। वह अपने घर की दूसरी मंजिल पर दादी के साथ अलग-अलग कमरों में रहे और दादी की देखभाल की। अरविंद ने बताया कि दादी को जब बताया कि उन्हें कोरोना हो गया है, तो दादी का रिएक्शन था कि-घबराण दी जरूरत नीं, रब्ब का नाम लै, सब ठीक हो जाणा। उनकी दादी की पॉजिटिव ने ही उन दोनों को ठीक किया।

वह रोज पूजा अर्चना करती रहीं। दादी ने लगातार गर्म पानी पिया। इसके अलावाा सलाद, हरी पत्तेदार सब्जियां और घर पर बना सादा भोजन किया। इसी डाइट के दम पर उन्होंने कोरोना को हराया। 12 सितंबर को डॉक्टरों की टीम ने दादी का फिर से चेकअप किया तो उनमें कोरोना के कोई लक्षण नहीं हैं। उनकी स्मैल और जीभ का स्वाद भी वापस आ गए हैं। बता दें कि पुष्पावती सेखड़ी का बेटा सुभाष सेखड़ी 3 बार बटाला से नगर कौंसिल के प्रधान रह चुके हैं और करीब 7 बार पार्षद बने हैं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- मेष राशि वालों से अनुरोध है कि आज बाहरी गतिविधियों को स्थगित करके घर पर ही अपनी वित्तीय योजनाओं संबंधी कार्यों पर ध्यान केंद्रित रखें। आपके कार्य संपन्न होंगे। घर में भी एक खुशनुमा माहौल बना ...

और पढ़ें