पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

विकास:मनरेगा के तहत गांव बस्सी गुज्जरां में दादी-पोती पार्क को किया जा रहा तैयार, गांव महतोत में सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट प्रोजेक्ट तैयार

चमकौर साहिबएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • ब्लॉक चमकौर साहिब ने कोरोना महामारी को विकास के कामों में रुकावट नहीं बनने दिया, मनरेगा से जारी रहे काम

ब्लॉक चमकौर साहिब ने कोरोना महामारी के दौरान विकास के कामों में रुकावट नहीं आने दी। प्रनीत कौर बीडीपीओ चमकौर साहिब ने बताया कि जहां ब्लॉक के गांवों में विकास के कामों में तेजी लाई गई है वहीं मनरेगा द्वारा लोगों को रोजगार भी मुहैया करवाया है। इस समय दौरान रुटीन से हटकर सरकार की कोरोना संबंधी हिदायतों को ध्यान में रखते हुए ब्लॉक के गांवों में नए प्रोजेक्ट शुरू किए गए हैं। पंजाब में लड़के-लड़कियों के फर्क को मिटाने के लिए गांव बसी गुज्जरां में दादी-पोती पार्क तैयार किया जा रहा है। इस पार्क में बच्चों के लिए झूले, बुजुर्गों के लिए सैरगाह व नौजवानों के लिए ओपन जिम तैयार किया जा रहा है। ऐसा ही एक पार्क गांव मुंडिया व गांव हाफिजाबाद में भी मनरेगा द्वारा बनाए जा रहे हैं। इनमें आने वाले समय दौरान और भी सुविधा मुहैया करवाई जाएगी।

इसके साथ ही साफ सफाई को ध्यान में रखते हुए गांव महतोत में सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट प्रोजेक्ट भी तैयार किया गया है। इसके लिए एक अलग-अलग बिल्डिंग तैयार की जा रही है जिसमें शहर की तर्ज पर गांव में हर घर से गीला-सूखा कुड़ा इकट्ठा करके खाद तैयार की जाएगी। इस काम को पूरा करने के लिए ग्राम पंचायत महतोत बहुत उत्साह के साथ काम कर रही है।

इस काम के लिए गांव महतोत की गैर सरकारी संस्था राउंड का ग्लास का सहयोग भी लिया जा रहा है। इसके अलावा गांव सैदपुर के लिए भी यह प्रोजेक्ट पास करवा लिया गया है। इस प्रोजेक्ट के साथ खाद तैयार होने के साथ केमिकल खाद का प्रयोग घटेगा और आर्गेनिक खेती को बढ़ावा मिलेगा और साथ ही गांवों में कूड़े की समस्या का हल होगा।

बाढ़ की रोकथाम के लिए बन रहे स्टड

बीडीपीओ ने बताया कि जब से ब्लॉक चमकौर साहिब बनाया गया है तब से पहली बार मनरेगा द्वारा ग्राम पंचायत दाउदपुर, सुलतानपुर, फसे, रंगा, में बाढ़ की रोकथाम के लिए पक्के स्टड बनाए जा रहे हैं। पिछले वर्ष बाढ़ के साथ गंभीर समस्या आ गई है। इस प्रोग्राम के साथ बाढ़ की रोकथाम होगी और लोगों को बाढ़ की समस्या से छुटकारा मिलेगा। इसके साथ ही ब्लॉक के गांव सलेमपुर में मनरेगा व अन्य ग्रांट के सहयोग के साथ छप्पड़ का नवीनीकरण थापर माॅडल के आधार पर किया जा रहा है। इसके अलावा ब्लॉक के 119 छप्पड़ों की डीवाटरिंग की गई और 48 छप्पड़ों में गार भी निकाली गई।

गांवों में कोरोना बीमारी से बचाव के लिए सोडियम हाईपोकलोराइट की समय-समय सप्रे की जाती है। ग्राम पंचायत बसी गुज्जरां, थोलरा ने गांव की डिस्पेंसरियों में दवाइयां भी बांटी हैं। पंजाब सरकार द्वारा मुहैया करवाया गया राशन भी गांवों में जरूरतमंद लोगों को बांटा गया व बीमारी से बचाव के लिए मिशन फतेह के तहत गांवों में अनाउसमेंट करवाकर पोस्टर लगाकर पंचायत द्वारा लोगों को जागरूक भी किया जाता रहा है।

खबरें और भी हैं...