गन प्वाइंट पर लूट / पुलिस की वर्दी में आए लुटेरे ने साथियों सहित दुकानदार के घर से सोने की चेन, 58 हजार और दो मोबाइल लूटे

लुटेरों की कार को टक्कर मारने के बाद क्षतिग्रस्त कार। लुटेरों की कार को टक्कर मारने के बाद क्षतिग्रस्त कार।
X
लुटेरों की कार को टक्कर मारने के बाद क्षतिग्रस्त कार।लुटेरों की कार को टक्कर मारने के बाद क्षतिग्रस्त कार।

  • दुकानदार ने लुटेरों का किया पीछा, कार की टक्कर से लुटेरा जख्मी, सभी भागने में सफल
  • पुलिस ने पांच अज्ञात लुटेरों के खिलाफ मामला किया दर्ज

दैनिक भास्कर

Jul 01, 2020, 04:00 AM IST

दीनानगर. जीटी रोड पर गांव झंडेचक्क में सोमवार की रात करीब 9:45 बजे के आसपास पुलिस वर्दी में आए व्यक्ति ने सामान लेने के बहाने पहले करियाना की दुकान को खुलवाया और फिर दुकानदार निशांत महाजन को गन प्वाइंट ऊपरी मंजिल स्थित घर में दाखिल होकर साथियों सहित लूट को अंजाम दिया। लुटेरों ने दुकानदार, घर में उनके पिता रविंदर महाजन और पत्नी रश्मि को गन प्वाइंट पर लेकर 2 तोले सोने का चेन, 58,500 रुपए नकदी और दो मोबाइल लूट कर फरार हो गए। जाते समय वह तीनों को बाथरूम में बंद कर गए, लेकिन जल्दबाजी में लुटेरों ने बाथरूम के दरवाजे को कुंडी नहीं लगाई। दुकान के रास्ते ही भागते समय शटर को बाहर से बंद कर गए। वारदात के समय दुकानदार निशांत महाजन की मां परवेश, उसका भाई राजन व बच्चे नीचे ग्राउंड फ्लोर पर थे। 

पिस्टल और कारतूस कब्जे में लिया

लुटेरों के भागते ही तीनों बाथरूम से निकलकर पिछले दरवाजे से दुकान के पीछे बने ग्राउंड फ्लोर पर आए और वहां भाई राजन को सारी बात बताई। जिस पर राजन और निशांत ने पड़ोस में रहते रमनदीप व उसके भाई अनिल को साथ लेकर कार में लुटेरों का पीछा किया। लुटेरों ने वारदात स्थल से 200 मीटर दूर बाइपास मोड़ पर रेस्टोरेंट के बाहर कार खड़ी की हुई थी। इतने में निशांत व राजन ने कार से उनकी कार को टक्कर मार दी। टक्कर में पुलिस वर्दी में आए लुटेरे की टांग फ्रेक्चर हो गई और उसके हाथ में पकड़ी पिस्टल गिर गई।

निशांत और राजन ने जख्मी लुटेरे को काबू किया, लेकिन इस दौरान कार के अंदर से दूसरे लुटेरों ने बंदूक तान कर डराया और जख्मी साथी लेकर कार में फरार हो गए। वारदात की सूचना पर एसएचओ कुलविंदर सिंह मौके पर पहुंचे और लुटेरों का पिस्टल और कारतूस को कब्जे में लिया। एसपी नवजोत सिंह और डीएसपी महेश सैनी ने भी मौके का जायजा लिया। मामले में पांच अज्ञात लुटेरों पर केस दर्ज हुआ है। 

वारदात सेे दो घंटे पहले चीनी खरीदने आया था लुटेरा, सीसीटीवी की हार्ड डिस्क भी साथ ले गए 

गांव झंडेचक्क में गुरुद्वारा सिंह सभा के साथ जीटी रोड पर निशांत महाजन की करियाना दुकान है। निशांत महाजन करियाना दुकान के ऊपर बने मकान में रहता है। जबकि उसका भाई राजन दुकान के पीछे ग्राउंड फ्लोर पर रहता है। निशांत महाजन ने बताया कि वारदात से करीब 2 घंटे पहले पुलिस वर्दी में एक व्यक्ति आया और उसने एक किलो चीनी खरीद करते हुए कहा कि उनकी बाइपास पर नाके पर ड्यूटी है और खाने पीने के सामान की जरूरत रहती है। रात करीब 9.45 बजे उसने आकर दुकान के शटर को खटखटाया।

उसने छत से देखा तो वही पुलिस वर्दी वाला व्यक्ति वहां मौजूद था और उसने कुछ खाने पीने के सामान की जरूरत बताई। निशांत ने दुकान के अंदर से बनी सीढ़ियों से उतर शटर को उठाया। वर्दीधारी के मांगने पर उसने कोल्ड ड्रिंक, सोडा ओर नमकीन का पैकेट निकाल कर दे दिए। इतने में उसके तीन अन्य साथी भी वहां आ धमके। लुटेरों ने लिए सामान के पैसे देने के बहाने जेब से पिस्टल निकाल लिया और वारदात को अंजाम दिया। लुटेरे दुकान में लगे सीसीटीवी की हार्ड डिस्क, 58,500 रुपए, सोने की चेन और 2 मोबाइल ले गए।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना