साइकिल रैली 15 अगस्त को बाघा बॉर्डर पहुंचेगी:26 जुलाई से बारामुला से चली साइकिल रैली का दीनानगर में स्वागत

दीनानगर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

बीएसएफ की आर्टिलरी बटालियन की ओर से अपनी स्थापना के 50 वर्ष होने पर एक अक्तूबर 2020 से एक अक्तूबर 2021 तक स्वर्ण शताब्दी मनाई जा रही है। इस उपलक्ष्य में आर्टिलरी बटालियन के जवानों द्वारा देशवासियों में देशभक्ति की अलख जगाने के लिए 26 जुलाई को कारगिल विजय दिवस पर जम्मू कश्मीर के बारामुला से साइकिल रैली का शुभारंभ किया।

साइकिल रैली विभिन्न शहरों से होते हुए 2500 किलोमीटर का सफर तय कर 15 अगस्त को बाघा बार्डर अटारी पहुंच कर संपन्न होगी। शनिवार को इस साइकिल रैली के दीनानगर पहुंचने पर शहीद सैनिक परिवार सुरक्षा परिषद की ओर से शहीद मनिंदर सिंह अत्री मेमोरियल सरकारी सीनियर सेकंडरी स्कूल में स्वागत किया।

टूआईसी संदीप कुमार ने कहा कि स्कूल के छात्रों, स्टाफ और परिषद के सदस्यों की ओर से साइकिल रैली का जिस गर्मजोशी के साथ स्वागत किया गया है उन्होंने कहा कि इस यात्रा का मकसद स्वच्छ भारत अभियान, फिट इंडिया, बेटी बचाओ और बेटी पढ़ाओ, एक भारत, श्रेष्ठ भारत, देशभक्ति, एकता व युवाओं को देश की पहली रक्षा पंक्ति बीएसएफ में भर्ती होने का संदेश देना है।

परिषद के महासचिव कुंवर रविंदर सिंह विक्की ने कहा कि इन सीमा प्रहरियों की बदौलत ही सभी देशवासी अपने घरों में सुरक्षित रहकर चैन की नींद सो रहे हैं। इनके शौर्य व अदम्य साहस के समक्ष समूचा राष्ट्र नतमस्तक है। प्रिंसिपल जसकरणजीत सिंह काहलों ने कहा कि देश के इन जांबाजों को वर्दी में देख उनके स्कूल के छात्र खुद को गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं।

यहां डिप्टी कमांडेंट परितोष बिश्वास, सहायक कमांडेंट डा. अकांक्षा, वाइस प्रिंसिपल कुंवर अरुण सिंह, लेक्चरर राकेश कुमार, योगेश कुमार, नेक चंद, अश्वनी कुमार, पुरुषोत्तम कुमार, सुनील कुमार, सुमन कुमार, विजय कुमार, गोल्डी सैनी, रमिंदर, हेमान, विजयइंद्र, अनुपम, अनीता, मनदीप कौर, मीना, नितिका डोगरा, तिलक राज मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...