ज्ञापन दिया:धार्मिक भावनाएं आहत करने वाली फिल्म के खिलाफ संगठनों ने एसडीएम को दिया ज्ञापन

गढ़शंकर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • फिल्म रिलीज को प्रतिबंधित करने की मांग

हिंदी फिल्म भवाई (रावण लीला) जो 1 अक्टूबर को रिलीज होगी, पर सीता माता के गलत चरित्र को चित्रित करके हिंदू धर्म की भावनाओं को आहत करने का आरोप लगाया गया है लगाते गढ़शंकर में आज विभिन्न संगठन एसडीएम को विरोध में ज्ञापन सौंपा। यहां विभिन्न संगठनों के नेताओं ने कहा कि एक अक्टूबर को रिलीज होने वाली हिंदी फिल्म भवाई (रावण लीला) को लेकर लोगों में भारी आक्रोश है।

क्योंकि माता सीता जी की भूमिका निभाने वाले अभिनेता और फिल्म में रावण की भूमिका निभाने वाले अभिनेता के बीच अफेयर ने पूरे हिंदू समुदाय, वाल्मीकि समुदाय और रविदासिया समुदाय की भावनाओं को आहत किया है। उन्होंने सरकार से फिल्म के निर्माता, निर्देशक, लेखक और कलाकारों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने और फिल्म की रिलीज पर पूरी तरह से प्रतिबंध लगाने की मांग की। भगवान वाल्मीकि ने पवित्र ग्रंथ रामायण में माता सीता को पवित्र और गुणी महिला बताया है और इस फिल्म से लोगों में भ्रम पैदा करने की कोशिश की गई है। इन बुरे तत्वों के खिलाफ सख्त कानूनी कार्रवाई की जानी चाहिए और फिल्म की रिलीज को पूरी तरह से प्रतिबंधित किया जाना चाहिए और अगर फिल्म पर प्रतिबंध नहीं लगाया तो भविष्य में बड़े विरोध प्रदर्शन होंगे, जिसकी जिम्मेदारी प्रशासन और सरकार की होगी। यहां सुमित पुरी, राहुल अग्निहोत्री, युवराज काका, विक्की खन्ना, कपिल व बूटा राणा मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...