रोष:भविष्य में बंद की कॉल का विरोध करेगा चैंबर ऑफ कॉमर्स, इस बार हुआ करोड़ों का नुकसान

गुरदासपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • भारत बंद से व्यापारी और रेहड़ी-फड़ी वालों का हुआ नुकसान

27 सितंबर को किसानों के भारत बंद को लेकर व्यापारी, रेहड़ी-फड़ी वाले को परेशानी का सामना करना पड़ा। इस संबंधी चैंबर ऑफ कॉमर्स गुरदासपुर ने एक मीटिंग की। कमेटी के प्रधान संदीप अबरोल ने कहा कि जो भी किसान बंद के समर्थन में आए थे, वह अपने घर काे काम खत्म कर धरने में बैठे थे। लेकिन इस बंद के दौरान पंजाब के दुकानदारों और रेहड़ी वालों को भारी नुकसान झेलना पड़ा है। देखा जाए तो पूरे पंजाब भर में लगभग 1000 करोड़ का नुकसान हुआ है।

वहीं, गुरदासपुर शहर में कुछ लोगों की तरफ से दफ्तर, बैंक और रेहड़ी वालों को जबरदस्ती बंद करने के लिए कहा गया था। इसका चैंबर ऑफ कॉमर्स निंदा करता है। उन्होंने कहा कि बंद का समर्थन करने वाले किसान व अन्य पार्टियों के कार्यकर्ता बंद की काल देने से पहले व्यापारियों से चर्चा भी नहीं करते हैं और न ही उनकी कोई राय लेते हैं। उन्होंने कहा कि अगर आने वाले दिनों में किसानों और अन्य पार्टियों की तरफ से बंद की घोषणा की गई, तो उनकी तरफ से इसका विरोध किया जाएगा। वहीं, इन पार्टियों को बंद की आह्वान से पहले व्यापारी वर्ग से बातचीत करनी चाहिए, क्योंकि आने वाले दिनों में त्योहारों के दिन है। इससे सभी दुकानदारों को काफी नुकसान हो सकता है और वहीं उन्होंने बंद के दौरान जिन व्यापारियों व रेहड़ी-फड़ी वालों को नुकसान हुआ है, उनकी भरपाई करने के लिए प्रशासन से मांग की है।

खबरें और भी हैं...