पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

थोड़ी राहत:गैर जरूरी वस्तुओं की दुकानें अब शाम पांच बजे तक खुल सकेंगी

गुरदासपुर18 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • मिनी लॉकडाउन के नियमों ने डीसी मोहम्मद इश्फाक ने किया बदलाव, स्वास्थ्य सेवाएं 24 घंटे जारी रहेंगी

सरकार के निर्देशों तहत भले ही 10 जून तक लॉकडाउन बढ़ा दिया गया है, लेकिन जिला प्रशासन गुरदासपुर ने मार्केट खोलने के समय में ढील देकर दुकानदारों को राहत दी है।

डीसी मोहम्मद इश्फाक ने बताया कि नए निर्देशों तहत लॉकडाउन के दौरान जिले में अस्पताल, मेडिकल एस्टेब्लिशमेंट, मेन्युफ्रेक्चिंग/डिस्ट्रब्यूशन यूनिट (सरकारी/निजी), डिस्पेंसरी, केमिस्ट व मेडिकल यंत्रों वाली दुकानें, लेबोरटेरी, क्लीनिक्स, नर्सिंग होम, एम्बुलेंस समेत मेडिकल पर्सनल, नर्से, पैरा मेडिकल स्टाफ के लिए ट्रांसपोर्ट व अन्य अस्पताल से संबंधित सेवाओं को 24x7 छूट रहेगी।

उधर, दूध और डेयरी प्रोडक्ट्स सोमवार से रविवार तक सुबह सात से शाम सात बजे तक खुली रह सकेंगी। वहीं, फल, सब्जियों वाली दुकानें/रेहड़ी सोमवार से रविवार तक सुबह सात बजे से शाम पांच बजे तक खुली रहेंगी। मीट व मीट प्रोडक्ट्स और पोल्ट्री प्रोडक्ट्स/दुकानें सोमवार से रविवार तक सुबह सात से शाम पांच बजे तक खुलने की परमिशन होगी।

रेस्टोरेंट सिर्फ होम डिलीवरी कर सकेंगे

वहीं, शेष गैर-जरूरी वस्तुओं की दुकानें खोलने के समय में तब्दीली हुई है। इस तहत सोमवार से शुक्रवार सुबह 9 से शाम पांच बजे तक खुलेंगी। उधर, रेस्टोरेंट सिर्फ होम डिलीवरी सोमवार से रविवार तक सुबह 9 बजे शाम 9 बजे तक देंगे। जबकि बैठकर खाना परोसने की इजाजत नहीं होगी।

परचून और होलसेलर शराब के ठेके सुबह से शुक्रवार तक सुबह 9 बजे से शाम पांच बजे तक खुलने की परमिशन होगी, लेकिन अहाते नहीं खुलेंगे। पेट्रोल पंप सोमवार से रविवार तक सुबह सात बजे से रात 9 बजे खुल सकेंगे। एलपीजी सुविधा सोमवार से रविवार तक सुबह सात बजे से रात 9 बजे तक उपलब्ध रहेगी। बैंक (नियमों अनुसार) सभी काम वाले दिन सर्विस देंगे। चार्टड अकाउंटेंट और टैक्स प्रेक्टिशनर (50 फीसदी स्टाफ के साथ) सोमवार से शुक्रवार तक सुबह 9 से दोपहर 3 बजे तक सुविधा देंगे।

दूसरे जिले से आए लोगों की मूवमेंट पर रोक नहीं

पैदल या साइकिल के जरिए जरूरी कामकाज किया जा सकेगा, लेकिन दोपहिया और चार पहिया वाहनों को चलाने हित वैध शिनाख्ती कार्ड बरतें। आईडी कार्ड न होने की सूरत में एडवांस ई-पास जनरेट कर उसको डिस्प्ले करें। उन्होंने खास निर्देश दिए कि एस्टेब्लिशमेंट/दुकानों के मालिक व उनके कर्मी हर सप्ताह अपना कोरोना आरटीपीसीआर या रेपिड एंटीजन टेस्ट कराएंगे। जो 45 वर्ष से अधिक आयु वाले हैं, वह 7 दिनों के भीतर कोविड वैक्सीन (कम से कम पहली डोज) जरूर लगवाएं।

जिले में सूबे के दूसरे हिस्से से आने वाले व्यक्तियों की मूवमेंट पर कोई रोक नहीं, लेकिन प्रदेश से बाहर आए व्यक्ति को जिले में दाखिल होने के लिए यह जरूरी है कि कोविड निगेटिव रिपोर्ट 72 घंटों से पुरानी न हो या वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट (दो हफ्ते पुरानी न्यूनतम एक डोज) पास हो। यदि कोई व्यक्ति नियमों की उल्लंघना करता पाया गया तो उसके खिलाफ बनते एक्ट के तहत कार्रवाई की जाएगी। संबंधित आदेश 10 जून तक लागू रहेगा।

खबरें और भी हैं...