पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

भारत पर असर नहीं होगा:148 साल बाद 10 जून को कंकणाकृति का सूर्यग्रहण

गुरदासपुर8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

ज्येष्ठ मास कृष्ण पक्ष में 10 जून को 16 दिन में दूसरा ग्रहण होगा। एस्ट्रोलाजर रणजीत सिंह राणा ने बताया कि यह ग्रहण 148 साल बाद वक्री शनि के साथ कंकणाकृति का होगा। भारत में दिखाई नहीं देने से इसका भारत व राशियों पर असर नहीं होगा।

यह ग्रहण उत्तरी अमेरिका के उत्तर पूर्वी भाग, उत्तरी एशिया, उत्तरी अटलांटिक महासागर में दिखाई देगा। भारत के समयानुसार दोपहर 1.42 से शाम 6.43 बजे तक रहेगा। इसके पहले 26 मई को भारत के पूर्वी क्षेत्र, पश्चिम बंगाल में चंद्र ग्रहण वैशाख पूर्णिमा को दिखाई दिया था।

इसका राशि पर भी कोई असर हमारे देश में मान्य नहीं होगा। इस बार सूर्य ग्रहण के साथ शनि जयंती भी है। शनि के अपनी स्वयं की राशि मकर में रहते एवं शनि जयंती के साथ मकर में वक्री शनि साथ यह सूर्यग्रहण इससे पूर्व 148 साल पहले 26 मई 1873 में हुआ था।

खबरें और भी हैं...