पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

ठगी:ट्रांसपोर्टर ने 23 लाख में खरीदा था ट्रक, डेढ़ साल बाद घर आई पुलिस चोरी का बोलकर ले गई, 3 पर केस

गुरदासपुर7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • कांगड़ा के व्यक्ति ने दो दोस्तों का ट्रक बोल बिकवाया था, पुलिस ने एक को काबू कर जमानत दी

तिब्बड़ क्षेत्र के रहने वाले एक ट्रांसपोर्टर ने नवंबर 2019 में 23 लाख रुपए में एक ट्रक खरीदा था। उसके करीब डेढ़ साल बाद पुलिस ने वह ट्रक अपने कब्जे में ले लिया। दरअसल ट्रक अंबाला (हरियाणा) से चोरी किया गया था, जिसे तीन व्यक्तियों ने बड़ी सफाई के साथ धोखे से तिब्बड़ के ट्रांसपोर्टर सुखदेव सिंह को बेच दिया।

उन्होंने ट्रक की खरीद में अपने साथ हुई 23 लाख रुपए की ठगी का केस थाना तिब्बड़ में दर्ज करवाया है। पुलिस ने इस मामले में एक आरोपी को गिरफ्तार भी कर लिया है। सुखदेव सिंह पुत्र कुणन सिंह ने पुलिस में दर्ज करवाई रिपोर्ट में बताया कि डमटाल जिला कांगड़ा के रहने वाले सुरिंदर मोहन, दशमेश नगर गुरदासपुर के अमित शर्मा और तिब्बड़ी के रहने वाले हरप्रीत सिंह पुत्र मनजीत सिंह ने चोरी का ट्रक धोखे से उन्हें बेचकर 23 लाख रुपए की ठगी की है। सुखदेव सिंह ने बताया कि अक्टूबर 2019 में हरप्रीत सिंह उनके पास आया।

उससे कहा कि उसके दोस्त सुरिंदर मोहन और अमित शर्मा अपना दस टायरों वाला ट्रक (एचपी38एफ-4650) बेचना चाहते हैं। अगर वह खरीदना चाहता है तो वह ट्रक का सौदा करवा सकता है। 15 अक्टूबर को तीनों लोग उनके पास आए और ट्रक का सौदा 23 लाख रुपए में तय हुआ।

सुखदेव सिंह ने बताया कि तब उन्होंने 10 लाख रुपए हरप्रीत सिंह, सुरिंदर मोहन और अमित शर्मा को दिए, जिसमें से डेढ़ लाख रुपए कैश और साढ़े आठ लाख रुपए आरटीजीएस के माध्यम से ट्रांसफर किए। उस समय उन्हें ट्रक की आरसी भी दिखाई गई जोकि सुरिंदर मोहन के नाम पर थी।

ट्रांसपोर्टर सुखदेव सिंह ने बताया कि तय बातचीत में इकरारनामा हुआ कि 15 नवंबर तक गाड़ी के कागजात उनके नाम कराए जाएंगे और साथ ही ट्रक की पंजाब की एनओसी भी लेकर देनी थी। सुखदेव सिंह ने बताया कि 14 नवंबर को सुरिंदर मोहन ने उन्हें अमित शर्मा के घर बुलाया। वहां पर उन्हें ट्रक की आरसी दी, जिसके बाद 16 नवंबर उन्होंने अमित शर्मा के खाते में साढ़े छह लाख रुपए ट्रांसफर कर दिए। इस तरह आरोपियों ने उनसे कुल 23 लाख रुपए ले लिए।

आरोपियों ने ट्रक के जाली कागज बनाए थे : सुखदेव
ट्रांसपोर्टर सुखदेव सिंह ने बताया कि 4 मार्च 2021 को अंबाला पुलिस आई और बताया ट्रक चोरी का है, जिसकी एफआईआर भी दर्ज है। उसके बाद तिब्बड़ पुलिस ने ट्रक कब्जे में ले लिया। पुलिस से ही उन्हें पता चला कि ट्रक चोरी का है। सुखदेव सिंह ने पुलिस को बताया कि किस तरह तीनों आरोपियों ने ट्रक के जाली दस्तावेज बनाकर धोखाधड़ी की है। पुलिस ने तब तीनों व्यक्तियों पर केस दर्ज किया था। अब पुलिस ने अमित शर्मा को गिरफ्तार कर लिया मगर उसे जमानत पर रिहा कर दिया गया जबकि अमित और हरप्रीत सिंह की गिरफ्तारी बाकी है।

खबरें और भी हैं...