पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

दूध के रेट में पानी:जिले में रोज 15 लाख ली. दूध उत्पादन, 1 फीसदी के हिसाब से दोधी डेली 15 हजार लीटर बेच देते हैं पानी

गुरदासपुर8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • 83 % पानी से मिलकर बनता है दूध, मात्रा 84% मिले तो गड़बड़ है
  • मिलावट संबंधी जानकारी के लिए 01874-220163 पर करें संपर्क

भर में हर हफ्ते दूध के 100 सैंपल भरे जाएंगे। अगर मिलावट पाई गई तो कार्रवाई भी होगी। डेयरी विभाग के डिप्टी डॉयरेक्टर बलविंदरजीत ने बताया कि कोविड-19 के कारण सैंपलिंग का काम कम हो पाया था, लेकिन अब अभियान तेज कर दिया है। डीसी मोहम्मद इश्फाक के निर्देश पर डेयरी विकास विभाग दूध के सैंपल ले रहा है।

तीन दिन में विभाग की टीमों ने शहर के मोहल्ला बुत्तां वाली गली, कैलाश एन्क्लेव, रामशरणम कॉलोनी और रुलिया राम कॉलोनी में 72 सैंपल भरकर मिल्क प्लांट गुरदासपुर में टैस्ट कराए हैं। इनमें से 50 में कम फैट पाई गई जबकि 12 में पानी की मात्रा ज्यादा पाई गई है। बता दें कि दूध 83 फीसदी पानी से मिलकर बना होता है। इससे 1 प्रतिशत भी ज्यादा मात्रा आने पर इसे मिलावटी माना जाता है। इस तरह से जिले में रोज 15 लाख लीटर दूध का उत्पादन है। अगर दोधी 1 प्रतिशत भी पानी मिलाते हैं तो रोज 15 हजार पानी दूध के भाव बेच डालते हैं।

घर पर ऐसे करें दूध में मिलावट की जांच

दूध में पानी की मिलावट जांचने के लिए लकड़ी या पत्थर पर दूध की बूंदे गिराएं। अगर दूध बहकर नीचे की तरफ गिरे और सफेद निशान बन जाए तो दूध पूरी तरह शुद्ध है। दूध में डिटर्जेंट की मिलावट जांचने के लिए इसकी कुछ मात्रा को कांच की शीशी में लेकर जोर से हिलाइए। अगर झाग निकलने लगे तो इस दूध में डिटर्जेंट मिला हुआ है। दूध को दोनों हाथों में लेकर रगड़कर देखें। अगर दूध असली है, तो सामान्य तौर पर चिकनाहट महसूस नहीं होगी। अगर दूध नकली है, तो इसे रगड़ने पर चिकनाहट महसूस होगी जैसी डिटर्जेंट को रगड़ने पर होती है। दूध को देर तक रखने पर असली दूध अपना रंग नहीं बदलता है। जबकि नकली दूध पीला पड़ने लगता है। असली दूध को उबालने पर उसका रंग बिल्कुल नहीं बदलता, लेकिन नकली दूध का रंग उबालने पर पीला हो जाता है।

रोजाना 15 लाख लीटर उत्पादन

जिले में रोजाना 15 लाख लीटर दूध का उत्पादन होता है। इसमें से 57 फीसदी का प्रयोग घरों और बाकी का प्लांट्स और हलवाइयों की तरफ से किया जाता है। डिप्टी डायरेक्टर ने कहा कि लोग अच्छे किरदार वाले दोधियों, जान-पहचान वाले पशुपालकों या पैकेट वाला दूध खरीदने को ही प्राथमिकता दें।

शक होने पर यहां कराएं दूध की टेस्टिंग

अगर किसी को दूध के संबंध में कोई शिकायत आती है तो वह सीधे तौर पर डिप्टी डायरेक्टर डेयरी गुरदासपुर के जिला प्रबंधकीय कांप्लेक्स, ब्लॉक-बी, चौथी मंजिल, कमरा नंबर 508 में किसी भी काम वाले दिन सुबह 9 से 11 बजे तक दूध का टेस्ट करा सकते हैं। इस संबंध में अधिक जानकारी के लिए फोन नंबर 01874-220163 पर संपर्क किया जा सकता है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आपकी प्रतिभा और व्यक्तित्व खुलकर लोगों के सामने आएंगे और आप अपने कार्यों को बेहतरीन तरीके से संपन्न करेंगे। आपके विरोधी आपके समक्ष टिक नहीं पाएंगे। समाज में भी मान-सम्मान बना रहेगा। नेग...

    और पढ़ें