पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

कार्यक्रम:10वीं में एवरेज अंक आए तो निजी स्कूल में दाखिले की मिली सलाह, उसी सरकारी स्कूल में 12वीं में पाए 98.88 % अंक

गुरदासपुर13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
12वीं में पाए 98.88 % अंक लाने वाले सुखमनप्रीत।
  • पीसीएस अधिकारी और दो विद्यार्थियों ने ऑनलाइन साझा किए सफलता के तजुर्बे
  • सुखमनप्रीत सिंह ने कहा- सरकारी स्कूलों में निजी स्कूलों की अपेक्षा अधिक सुविधाएं

अचीवर्स प्रोग्राम स्टोरीज ऑफ दि चैंपियन ऑफ गुरदासपुर के 8वें एडिशन में जिले की तीन सफल शख्सियतों ने अपनी उपलब्धियां लाइव प्रोग्राम में लोगों से साझा कीं। कार्यक्रम में स्टेशन कमांडर तिब्बड़ी कैंट एसएस शेखावत की पत्नी ज्योति शेखावत मुख्यातिथि के तौर पर ऑनलाइन रहीं। गीता भवन निवासी मेजर डॉ. अमित महाजन (पीसीएस) ने बताया कि उन्होंने 10वीं कक्षा धन देवी स्कूल से पास की। पंजाब एग्रीकल्चर यूनिवर्सिटी से बीएस (वेटनरी) पास की। साल 2004 से लेकर 2012 तक सेना में कमिशन अफसर के रूप में सेवाएं दीं।

आर्मी में सर्विस के दौरान ही सिविल सर्विसेस परीक्षा पास कर 2012 में पीसीएस ज्वाइन किया। पहली पोस्टिंग सहायक कमिश्नर (ज) बरनाला में और दूसरी पोस्टिंग सहायक कमिश्नर (ज) गुरदासपुर जिले में हुई। इसके अलावा बठिंडा में बतौर पुडा ऑफिसर भी सेवाएं दीं। वहीं, एसडीएम पठानकोट सेवाएं देने के बाद अब होशियारपुर में बतौर एसडीएम सेवाएं निभा रहे हैं। लाइव प्रोग्राम में डीसी की पत्नी शाहला कादरी, एसडीएम सकत्तर सिंह बल्ल, डीईओ (स) हरदीप सिंह, जिला रेडक्रॉस सचिव राजीव ठाकुर ऑनलाइन रहे।

लक्ष्य हासिल करने के लिए फोकस रखें
दूसरे अचीवर संगलपुरा रोड निवासी जतिन ने बताया कि उसने 10वीं कक्षा जिया लाल मित्तल स्कूल से पास की। 12वीं कक्षा में गोल्डन सीसे स्कूल में पढ़ते हुए 93.33% अंक हासिल किए। अब आईटीआई रुड़की में कंप्यूटर साइंस और इंजीनियरिंग की डिग्री कर रहा है। जिंदगी में सफलता पाने के लिए हमेशा लक्ष्य पर फोकस करें।

सरकारी स्कूलों में पढ़ाई में कमजोर बच्चों को किया जाता है गाइड, आगे बढ़ने में मिलती है मदद : सुखमनप्रीत
तीसरे अचीवर गांव जहादपुर (बटाला) निवासी सुखमनप्रीत सिंह ने बताया कि उनसे 10वीं कक्षा सरकारी सीनियर सेकेंडरी स्कूल जैतो सरजा (बटाला) से उत्तीर्ण की। 10वीं में एवरेज अंक लेने पर उसे सलाह दी गई कि वह 11वीं कक्षा के लिए किसी प्राइवेट स्कूल में दाखिला ले, लेकिन सलाह को नकारते हुए उसने उसी स्कूल में दाखिला लिया।

स्कूल प्रिंसिपल जसबीर कौर और अन्य शिक्षकों की मेहनत से उसने 12वीं परीक्षा में 98.88% (445/450) अंक हासिल किए। उसने कहा कि सरकारी स्कूलों में निजी स्कूलों की अपेक्षा अधिक सुविधाएं हैं। खासतौर पर सरकारी स्कूलों में शिक्षक उच्च योग्यता प्राप्त होने के कारण विद्यार्थियों को आगे बढ़ने में मदद मिलती है। सरकारी स्कूलों में एक्सट्रा क्लासेस लगाकर कमजोर बच्चों को गाइड किया जाता है। वह एलएलबी में दाखिला लेगा और आईएएस बनेगा।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज का दिन परिवार व बच्चों के साथ समय व्यतीत करने का है। साथ ही शॉपिंग और मनोरंजन संबंधी कार्यों में भी समय व्यतीत होगा। आपके व्यक्तित्व संबंधी कुछ सकारात्मक बातें लोगों के सामने आएंगी। जिसके ...

और पढ़ें