अनुमति:विवाह समारोह में 50 व दाह संस्कार में सिर्फ 20 लोगों की अनुमति

हाजीपुर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • शादी में बजाया डीजे तो हो सकती है कार्रवाई, सभी थाने को सख्ती से अनुपालन के मिले आदेश, सरकार ने नाइट क‌र्फ्यू को अब कर्फ्यू में बदला, शाम 6 से सुबह 6 बजे तक सख्ती

जिला में बढ़ते कोरोना के मामलों को लेकर शासन और प्रशासन काफी गंभीर हैं। कोरोना की रोकथाम को लेकर लगातार अभियान चलाए जा रहे हैं। कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़ने के साथ ही सरकार ने अब कई बदलाव के साथ सख्ती बरतने का आदेश दिया है। जिसमें आज से जिला के शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों की दुकानें शाम 6 बजे की बजाय अब शाम 4 बजे ही बंद करा दिए जाएंगे। वही रात्रि 9 से सुबह 6 बजे तक की नाइट कर्फ्यू को अब कर्फ्यू में बदलाव कर शाम 6 बजे से सुबह 6 बजे लगाने की घोषणा कर दी है।

वही अंतिम संस्कार में 20 व्यक्तियों की शामिल होने की अनुमति रहेंगी एवं शादी विवाह समारोह में थाना से परमिशन लेकर 50 व्यक्ति की शामिल होगें। विवाह समारोह के लिए रात्रि कर्फ्यू रात्रि 10 बजे से लागू होगी। शादी समारोह में अब डीजे बजाने की अनुमति नहीं रहेंगी। सरकार द्वारा जारी आदेश के आलोक में नियमों की पालना न करने वाले व्यक्ति के खिलाफ सीधे मुकदमा दर्ज किया जाएगा। प्रशासन ने इसकी सख्ती को लेकर सभी संबंधित पदाधिकारियों को आदेश दिए हैं। वही पुलिस को हर पहलु पर नजर रखने को कहां है।

संक्रमण की रफ्तार को देखते लिया गया निर्णय
सरकार द्वारा जारी आदेश अंतर्गत बताया कि कोरोना का प्रकोप हर रोज बढ़ रहा है। ऐसे में प्रशासन को लोगों को कोविड प्रोटोकॉल की पालना कराने के लिए सख्त होना पड़ा है। इसके लिए जिले के शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में विशेष अभियान चलाया का निर्देश जारी किया है। वहीं, इस अवधि के दौरान जिला के सभी सरकारी एवं गैर सरकारी कार्यालय 25 प्रतिशत कर्मचारी के उपस्थिति के साथ कार्य करेंगे। आवश्यक सेवाओं से संबंधित कार्यालयों को छोड़कर सभी कर्मचारी को घर से काम करने के लिए प्रेरित किया जाएगा। सभी सरकारी व गैर सरकारी कार्यालय शाम 5 बजे के बदले अब शाम 4 बजे ही बंद कर दिए जाएंगे।

शर्तों के साथ जरूरी वस्तुओं की दुकानें प्रतिबन्ध से मुक्त
कंटेनमेंट जोन गठित करने के पूर्व में दिए गए केंद्र व राज्य सरकार के निदेश के आलोक में जिला प्रशासन जिले के अंदर जरूरत के अनुरूप कंटेनमेंट जोन गठित करेंगे और उपयुक्त प्रतिबंधों के अतिरिक्त सब्जी, फल, मांस, मछली, किराना एवं दवा की दुकानों तथा अन्य आवश्यक सेवाओं को छोड़कर सभी दुकानों को बंद कराया जाएंगा। वही रेस्टारेंट, ढाबा और भोजनालय में बैठकर खाने पर प्रतिबंध रहेगा, लेकिन होम डिलीवरी का संचालन रात्रि 9 बजे तक होगा। मोहल्लावार दुकानें खोलने की अनुमति है। इसके लिए जिला प्रशासन द्वारा समय तय किया जाएगा। भीड़भाड़ वाले मंडियों को बड़े इलाकों में स्थान्तरित किया जा सकेगा।

ये रहेगी छूट

  • रात में कारखाने खुले रहेंगे, मजदूर काम करेंगे।
  • पेट्रोल-डीजल पंप, दवाई स्टोर रात में खुले रहेंगे।
  • माल वाहक वाहनों की आवाजाही जारी रहेगी।
  • टिकट दिखाकर रेलवे स्टेशन जा सकेंगे।
  • सब्जी मंडी अपने निर्धारित समय पर खुली रहेगी।
  • तकनीकी मिस्त्रियों की आवाजाही रात में हो सकेगी।
  • एटीएम, टेलीकॉम व आकस्मिक कर्मियों को छूट।
  • कोई भी सार्वजनिक कार्यक्रम नहीं होंगे।
खबरें और भी हैं...