पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

विभागीय कार्रवाई:कोनहारा रोड में गिरे विशाल इमली के पेड़ को 36 घंटे बाद भी नहीं हटाया गया, लोग परेशान

हाजीपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

पिछले 36 घंटे से पूर्व दो सौ वर्ष पुरानी इमली का पेड़ का मलवा नहीं हटाये जाने से नगर परिषद की कार्य सैली से स्थानीय लोगों के साथ राहगीरों में आक्रोश व्यप्त है। नगर परिषद को अपने काम के प्रति लेट लतीफी कोई नई बात नहीं है। इससे पूर्व भी कई ऐसे मौकों पर वरीय पदाधिकारियों की पहल के बाद ही समस्या का समाधान करती है। मालूम हो कि गुरुवार की सुबह लगभग 7:30 में बारिश और तेज हवा से स्थानीय कौनहारा रोड किनारे दो सौ वर्ष पुरानी इमली का पेड़ धाराशाई हो था। बीच सड़क पर गिरे पेड़ से आवागमन पूरी तरह से बाधित हो गया था, सड़क पर गिरे पेड़ से बिजली विभाग को लाखों रुपए की क्षति उठानी पड़ी।

आनन फानन में विद्युत आपूर्ति शुरू करने के लिए बिजली विभाग और वन विभाग ने संयुक्त रूप से गिरे हुए पेड़ का कुछ भाग को हटाकर विद्युत आपूर्ति और आने जाने के लिए सड़क पर से आधे अधूरे पेड़ के मलवा को हटा दिया गया। लेकिन 36 घण्टे बाद कौनहारा रोड स्थित कॉलोनी में आने जाने के लिए रास्ता क्लियर नहीं किया गया।

जिससे स्थानीय लोगों के साथ राहगीरों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। नगर परिषद हाजीपुर के कार्यपालक पदाधिकारी अनुभूति श्रीवास्तव से मोबाइल पर कई बार कॉल करने का प्रयास करने के बावजूद भी बात हो सकी। जबकि नगर परिषद के सूत्र बताते है कि अभी तक विभाग के वरीय पदाधिकारी की ओर से किसी प्रकार का निर्देश नहीं दिया गया है। वन अधीक्षक जुनेज अली ने बताया कि वन विभाग हमेशा लोगों की सेवा में तत्पर रहती है। बिजली विभाग की सूचना पर गिरे हुए पेड़ के कुछ हिस्से को हटा विद्युत आपूर्ति शुरू कर दिया गया है। सड़क पर गिरे हुए पेड़ को पूरी तरह से हटाने के लिए विभागीय कार्रवाई की जा रही है।

खबरें और भी हैं...