पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मामला पीएयू लुधियाना में आरक्षण नीति लागू न होने का:फेडरेशन, मुलाजिम जत्थेबंदी के वफद ने एससी कमीशन के चेयरमैन सांपला को सौंपा मांगपत्र

होशियारपुर10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

पीएयू लुधियाना के उपकुलपति और रजिस्ट्रार की तरफ से टीचिंग कैडर में आरक्षण नीति को लागू न करने के मामले को रविवार को श्री गुरु रविदास फेडरेशन और पीएयू एससीबीसी इंप्लाइज वेलफेयर एसोसिएशन के वफद ने जसवीर सिंह पाल की अगुवाई में चेयरमैन विजय सांपला को मांगपत्र दिया।

वफद ने सांपला को बताया कि वीसी और रजिस्ट्रार लुधियाना पंजाब व हरियाणा एग्रीकल्चर यूनिवर्सिटी एक्ट 1970 और पंजाब रिजर्वेशन एक्ट 2006 की धज्जियां उड़ाकर सूबे के दलित विद्यार्थियों के हकों पर डाका मार रहे हैं। उन्होंने चेयरमैन सांपला से अपील की कि आरक्षण नीति को लागू न करने वाले वीसी लुधियाना और रजिस्ट्रार के खिलाफ एससी/एसटी एक्ट के तहत कार्रवाई की जाए।

सांपला ने दिया कार्रवाई का भरोसा

एससी कमीशन के चेयरमैन विजय सांपला ने वफद नेताओं को भरोसा दिया कि वह जल्द ही उक्त मामले में पंजाब सरकार और वीसी/रजिस्ट्रार लुधियाना को तलब करेंगे। उन्होंने कहा कि बड़ी हैरानी की बात है कि पंजाब सरकार को इस मामले का पता होने के बावजूद भी कोई दलित हतैषी कार्रवाई नहीं की गई। वफद में दलजीत सिंह थरीके और निर्मल सिंह भी मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...