पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

घर पहुंचाई जाएगी स्कूल ड्रेस व मास्क:जिले के 70386 छात्रों की वर्दियों के लिए 4.22 करोड़ रुपए का फंड जारी

होशियारपुर20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
सरकारी स्कूल की छात्राएं।  (फाइल फोटो) - Dainik Bhaskar
सरकारी स्कूल की छात्राएं। (फाइल फोटो)
  • जुलाई में सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले पहली से लेकर 8वीं कक्षा तक के बच्चों के घर पहुंचाई जाएगी स्कूल ड्रेस व मास्क

कोरोना काल में पंजाब स्कूल शिक्षा विभाग ने इस बार शैक्षणिक सत्र के शुरुआती दिनों में ही सरकारी स्कूल में पढ़ते पहली से 8वीं कक्षा तक के बच्चों के वर्दियों की ग्रांट जारी कर दी है जबकि बीते कई साल में सेशन के लगभग पूरा होने तक बच्चों को वर्दियां नहीं मिल पाई थीं।

समग्र शिक्षा अभियान के तहत वर्दियों के लिए ग्रांट जारी की है, जो शिक्षा अधिकारी को ट्रांसफर होने पर सरकारी स्कूल के पहली से आठवीं तक के बच्चों को वर्दियाें के लिए दी जाएगी। इस योजना के तहत राज्य के 13 लाख छात्रों को वर्दियां मिलेंगी, जिसमें होशियारपुर जिले के 70,386 छात्रों के लिए 4.22 करोड़ रुपए का फंड जारी हुआ है। शिक्षा विभाग की तरफ से सरकारी स्कूलों में आठवीं तक के कक्षा के छात्रों को 600 रुपए प्रति छात्र के हिसाब से खर्च किया जाएगा।

बता दें कि सूबे के सभी जिलों से 765024 सभी वर्गों की लड़कों के लिए 45,90,14,400 रुपए और 5,08,436 एससी लड़कों के लिए 30,50,61,160 रुपए और 75172 बीपीएल लड़कों के लिए 4,51,03,200 लाख रुपए का बजट शामिल है। वर्दियों के लिए कपड़े की खरीद स्कूल मैनेजमेंट कमेटियों की तरफ से की जाएगी। 24 मई से स्कूलों में गर्मी की छुटि्टयां घोषित कर दी गई हैं, स्कूल 24 जून तक बंद रहेंगे। ऐसे में स्कूल खुलने के बाद ही जुलाई तक ही वर्दी तैयार करवाने व बच्चों में बांटने की कार्रवाई को अंजाम दिया जा सकेगा।

छात्र की वर्दी का माप लेकर करवाई जाएगी वर्दी की सिलाई, 2-2 मास्क भी दिए जाएंगे

बताते चलें कि कोरोना संक्रमण के मद्देनजर विद्यार्थियों को वर्दी के माप के लिए स्कूल नहीं बुलाया जाएगा बल्कि पेरेंट्स से नाप लेकर वर्दी सिलाई कराई जाएगी। वर्दी के कपड़े में से ही हरेक बच्चे के लिए दो-दो मास्क भी तैयार कराए जाएंगे।

जारी आदेशानुसार स्कूल मुखियों को विद्यार्थियों के नाप के अनुसार वर्दियां मिले इसके लिए भी खास ध्यान रखना होगा। स्कूल मुखियों को वर्दियों की डिस्ट्रीब्यूशन की प्रक्रिया पूरी करने के बाद विभाग को सर्टिफिकेट भेजना होगा कि उनकी तरफ से सभी वर्दियां बच्चों के नाप के हिसाब से बांट दी गई हैं।

सभी स्कूलों को सरकार की तरफ से जारी सर्कुलर भेज दी है: डीईओ

उधर, डीईओ(एलीमेंटरी)संजीव गौतम ने बताया कि सरकार से जारी सूचना संबंधी सर्कुलर जिले के सभी प्राइमरी व मिडल स्कूलों को भेज दी गई है। सरकार की तरफ से जारी आदेशानुसार तय समय में सभी बच्चों को वर्दियां तैयार करवा दे दी जाएंगी।

खबरें और भी हैं...