प्रेसवार्ता में कांग्रेस को घेरा / गुमशुदगी के पोस्टर मामले में सोम प्रकाश बोले-मैंने तो एसएसपी से शिकायत की, केस पुलिस ने खुद किया

Som Prakash said in the missing poster case - I complained to the SSP, the case was done by the police itself
X
Som Prakash said in the missing poster case - I complained to the SSP, the case was done by the police itself

  • यहां पुलिस प्रो-एक्टिव है, वरना कई लोग थानों के चक्कर काटते रह जाते हैं

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 05:00 AM IST

होशियारपुर. गत दिनों आप के कुछ नेताओं द्वारा सांसद सोम प्रकाश की गुमशुदगी संबंधी इश्तिहार लगाकर प्रदर्शन किया गया था, जिसके चलते करीब एक दर्जन लोगों के खिलाफ मामला दर्ज हुआ था। इस सब के बीच शनिवार को आखिरकार सांसद जनता के बीच नजर आए और भाजपा नेताओं के साथ मुलाकात करने के बाद प्रेसवार्ता की। लेकिन, इस दौरान खुद सांसद व कई नेता जहां बिना मास्क नजर आए, वहीं बैठक में सोशल डिस्टेंस का भी पालन नहीं हो पाया।

सांसद ने केंद्र सरकार का गुणगान किया व राज्य सरकार को जमकर कोसा। उन्हांेनेे कहा कि केंद्र सरकार की तरफ से लॉकडाउन के दौरान करोड़ों रुपए की मदद भेजी गई, लेकिन राज्य सरकार ने सिर्फ 10% राशि ही लोगों तक पहुंचाई, जिसका हिसाब राज्य सरकार से लिया जाएगा। गुमशुदगी के पोस्टर को लेकर कुछ लोगों द्वारा प्रदर्शन के बारे में सांसद ने कहा कि उक्त लोग लॉकडाउन में घर में बैठे बैठे डिप्रेशन में आ गए थे, जिसके चलते उन्होंने यह हरकत की। पर्चा दर्ज करवाने के बारे में उन्होंने कहा कि उन्होंने तो सिर्फ एसएसपी को शिकायत की थी, पर्चा पुलिस ने खुद किया। उन्होंने कहा कि देखेंगे क्या हो सकता है। वह पर्चा रद्द करवाने की सिफारिश पुलिस को कर दें, लेकिन यह बाद की बात है। 

आप नेता ने सांसद सोम प्रकाश पर कार्रवाई के लिए सीजेआई व पीएम को लिखा पत्र

कुछ दिन पहले आप नेताओं की तरफ से लोकसभा हलका होशियारपुर के सांसद व केंद्रीय राज्यमंत्री सोम प्रकाश का यह कहते हुए विरोध किया गया था कि कोरोना महामारी में वे हलके से गैरहाजिर हैं। इस पर केंद्रीय राज्यमंत्री द्वारा अर्ध सरकारी पत्र (डीओ लेटर) जारी करके आप कार्यकर्ताओं पर मामला दर्ज करवा दिया गया। ऐसा करके सोम प्रकाश ने अपने सरकारी पद का दुरुपयोग किया है। यह आरोप आप के प्रदेश उपाध्यक्ष व हलका इंचार्ज संदीप सैनी ने जारी प्रैस बयान में लगाया। सैनी ने सांसद पर कार्रवाई के लिए चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया, प्रधानमंत्री एवं भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष को पत्र लिखा है। उन्होंने पत्र में लिखा है कि केन्द्रीय राज्यमंत्री द्वारा अपने पद का दुरुपयोग करके उन पर व साथियों पर जो मामले दर्ज करवाए, उस पर संज्ञान लेते हुए उन पर कार्रवाई की जाए। कहा कि यह बात सभी जानते हैं कि डीओ लेटर किन परिस्थितियों में जारी किया जाता है? 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना