तीसरी लहर की आशंका:हिमाचल जाने वाले श्रद्धालुओं को वैक्सीन सर्टिफिकेट जरूरी

होशियारपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • 9 से 17 अगस्त तक चलेंगे श्रावण अष्टमी के नवरात्र मेले

हिमाचल प्रदेश सरकार की ओर से राज्य में कोविड-19 की तीसरी लहर की आशंका के मद्देनजर 9 से 17 अगस्त श्रावण अष्टमी नवरात्रों के दौरान राज्य के विभिन्न मंदिरों में जाने के इच्छुक व्यक्तियों को राज्य की सीमाओं में प्रवेश की अनुमति तभी दी जाएगी जब उनके पास कोविड-19 टीकाकरण का सर्टिफिकेट (दोनों डोज) या निगेटिव आरटीपीसीआर रिपोर्ट होगी। यह 72 घंटे से पुरानी नहीं होनी चाहिए। डीसी अपनीत रियात ने बताया कि हिमाचल सरकार की ओर से जो आदेश जारी किए गए उनका पूरा पालन किया जाए, ताकि श्रद्धालुओं को हिमाचल प्रदेश की सीमा में किसी दिक्कत का सामना न करना पड़े।

डीसी अपनीत रियात ने कहा कि हिमाचल सरकार की ओर से अपनी सीमा पर नाके व चेकिंग प्वाइंट बनाए जाएंगे और सिर्फ उन्हीं को प्रदेश की सीमा में जाने की आज्ञा होगी, जिनके पास उक्त रिपोर्ट हो। डीसी ऊना (हिमाचल प्रदेश) राघव शर्मा ने बताया कि हिमाचल में आने वाले श्रद्धालुओं के लिए कोविड-19 संबंधी स्वास्थ्य निर्देशों का पालन बहुत जरूरी है। डीसी ऊना राघव शर्मा ने कहा कि किसी भी व्यक्ति की ओर से गलत दस्तावेज दिखाने पर उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं...