हर शुक्रवार ड्राई डे मनाएं:डेंगू-मलेरिया से बचाव के लिए कूलर व फ्रिज की ट्रे को रखें साफ

कादियांएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मीटिंग के दौरान संबोधित करते सहायक मलेरिया अफसर रशपाल सिंह।-भास्कर - Dainik Bhaskar
मीटिंग के दौरान संबोधित करते सहायक मलेरिया अफसर रशपाल सिंह।-भास्कर
  • कम्युनिटी हेल्थ सेंटर काहनूवान में सहायक मलेरिया अफसर रशपाल ने लोगों को किया जागरूक

कम्युनिटी हेल्थ सेंटर काहनूवान में डेंगू मलेरिया बुखार से बचाव लिए लोगों को जागरूक करने के उपलक्ष्य में वीरवार को एक मीटिंग की गई। मीटिंग में विभिन्न गांवों से आशा वर्कर्स और सोशल वर्कर्स को डेंगू-मलेरिया बुखार संबंधी अपने-अपने क्षेत्र में लोगों को जागरूक करने के लिए जानकारी दी गई।

मीटिंग में सहायक मलेरिया अफसर रशपाल सिंह ने कहा कि मलेरिया बुखार एनाफिलीज मादा मच्छर के मनुष्य शरीर के किसी भी हिस्से पर काटने से होता है और यह मच्छर सारी रात मनुष्य पर अटैक करता है।

डेंगू बुखार एक एडीज एजिप्टी मच्छर के काटने से होता है। यह मच्छर देखने में सफेद धारियों की मूंछों वाला नजर आता है। यह मच्छर सूर्य के उदय होने से एक घंटा पहले और सूर्य के अस्त के एक घंटा बाद मानवीय शरीर पर काटता है और इसके बाद मनुष्य को बहुत तेज बुखार होता है।

मांसपेशियां दर्द होना, जी मिचलाना, उल्टियां आना, चमड़ी पर दाने/रैश हालत खराब होना, नाक, मुंह व मसूड़ों में से खून बहना और हालत ज्यादा खराब होने से जान भी जा सकती है। उन्होंने लाेगाें से प्रत्येक सप्ताह के शुक्रवार को ड्राई-डे मनाने की अपील की। साथ ही घरों के कूलरों, फ्रिजों की वेस्ट पानी वाली ट्रे में से पानी को सुखाएं और बरसात के खड़े पानी पर जला हुआ तेल डालने को कहा।

अपने शरीर को पूरी तरह ढकने वाले कपड़े पहनें। बुखार होने पर तुरंत स्वास्थ्य केंद्र में जांच करवाकर इलाज करवाएं। इस मौके पर एसएमओ डॉ. जगजीत सिंह, हेल्थ सुपरवाइजर कमलेश रानी, महिंदरपाल हेल्थ इंस्पेक्टर, हेल्थ इंस्पेक्टर दलीप राज, सहायक मलेरिया अफसर रशपाल सिंह, लखबीर सिंह, जोगा सिंह, बलजीत सिंह, राजबीर सिंह ब्लॉक एक्सटेंशन एजुकेटर मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...