गेहूं की आमद हो चुकी:पंजाब में 19 दिन में 100 लाख मीट्रिक टन गेहूं की खरीद, संगरूर में सबसे ज्यादा

कपूरथला6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मंडी की फोटो। - Dainik Bhaskar
मंडी की फोटो।

कोविड महामारी की दूसरी लहर के संकट के बीच पंजाब ने गेहूं खरीद के 100 लाख मीट्रिक टन के लक्ष्य को पार कर लिया है। गेहूं की खरीद 10 अप्रैल से शुरू हुई थी। 19 दिन में ही पंजाब में 77 फीसदी गेहूं खरीद का काम पूरा हो गया है। सूबे में 130 लाख मीट्रिक टन गेहूं आमद का अनुमान था। लेकिन अब तक 101.86 लाख मीट्रिक टन गेहूं की आमद हो चुकी है।

इनमें से 100 लाख मीट्रिक टन गेहूं खरीद हुई है। पिछले साल के मुकाबले इस बार लगभग 144 फीसदी अधिक गेहूं की आमद हुई है। आमद व खरीद में पहले स्थान पर जिला संगरूर रहा जहां सबसे अधिक 10.12 लाख मीट्रिक टन गेहूं की आमद हुई। इनमें से 28 अप्रैल तक 10.04 लाख मीट्रिक टन खरीद हो चुकी है। दूसरे स्थान पर लुधियाना व तीसरे स्थान पर पटियाला रहा। पहली बार डीबीटी प्रणाली तहत किसानों को गेहूं की सीधे अदायगी की जा रही है। इस प्रणाली तहत राज्य के 603602 लाख किसानों को 15500 करोड़ रुपए का भुगतान किया जा चुका है। 16.48 लाख पास के तहत किसान गेहूं अनाज मंडियों में ला रहे हैं। यह पास आढ़तियों के माध्यम से जारी किए गए हैं।

मंडियों में 8400 से अधिक को लगाई गई वैक्सीन

चंडीगढ़ कोविड-19 की दूसरी लहर के बीच गेहूं की खरीद प्रक्रिया के दौरान किसानों, आढ़तियों, मजदूरों और अन्य पक्षों के स्वास्थ्य को यकीनी बनाने के लिए पंजाब सरकार ने राज्यभर में अनाज मंडियों में लगाए गए विशेष टीकाकरण कैंपों के दौरान अब तक 8 हजार 400 से लोगों का टीकाकरण किया है। पंजाब मंडी बोर्ड के चेयरमैन लाल सिंह ने कहा कि राज्य में सभी 154 मार्केट कमेटियों में कोविड टीकाकरण कैंप स्थापित किए गए हैं। कोविड से बचाव के लिए गाइडलाइंस का पालन किया जा रहा है।

खबरें और भी हैं...