रास्ता न देने पर विवाद:4 नौजवानों ने उद्योगपति पर किया हमला, केस दर्ज न करने पर राणा के बेटे ने आधी रात को सिटी थाना घेरा

सुल्तानपुर लोधी2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • डीएसपी कक्कड़ मौके पर पहुंचे, धरनाकारियों को दिया भरोसा, 4 के खिलाफ केस दर्ज

चौक चेलिया में बीती रात गाड़ी को रास्ता न देने को लेकर दो पक्षों में हुए विवाद में एक गाड़ी में सवार 4 नौजवानों ने दूसरी कार में सवार उद्याेगपति पर हमला कर दिया। जब पुलिस ने हमलावरों पर कार्रवाई करने पर आनाकानी की तो केबिनेट मंत्री राणा गुरजीत सिंह के सपुत्र राणा इंद्रप्रताप सिंह ने आधी रात 1 बजे से 3 बजे तक थाने के समक्ष धरना लगा दिया। डीएसपी राजेश कक्कड़ ने धरनाकारियों को शांत किया। यशपाल के लड़के इशान अरोड़ा ने बताया कि हमलावर उनके पिता का सोने का कड़ा, चैनी, अंगूठी और घड़ी, 17 हजार रुपए भी छीन लिए।

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक उद्याेगपति यशपाल अरोड़ा पुत्र स्व. केवल कृष्ण अरोड़ा अपने शैलर से घर जा रहा था। चाैक चेलिया में मोड़ पर सामने आ रहे कार सवार पांच नौजवानों से गाड़ी को रास्ता देने को लेकर झगड़ा हो गया। नौजवानों ने यशपाल को घायल कर दिया। पुलिस ने 4 नौजवानों पर केस दर्ज किया है। धरने के दौरान शिरोमणि अकाली दल के शहरी प्रधान राजीव धीर और प्रेस सचिव जतिंद्र सेठी भी पहुंचे और उन्होंने भी पुलिस से न्याय की मांग की। उन्होंने कहा कि उद्योगपति यशपाल से सरेआम गुंडागर्दी और धक्का हुआ है। उन्होंने पुलिस की कारगुजारी पर भी रोष व्यक्त किया। दूसरी तरफ नौजवानों के पिता गुरलाल सिंह नंबरदार, धमिंद्र सिंह ने आरोप लगाया कि उनके लड़को को झूठे केस में फंसाया जा रहा है। उनके लड़कों ने कोई भी लूटपाट नहीं की। उन्होंने कहा कि गाड़ी को रास्ता देने को लेकर उनका आपस में झगड़ा जरूर हुआ। मामले को जानबूझ कर राजनीतिक रंगत दी जा रही है। इस मौके उनके साथ जसपाल सिंह ढिल्लों, निशाल सिंह, जगजीत सिंह थिंद, निर्मल सिंह लाडी आदि उपस्थित थे।

खबरें और भी हैं...