डेंगू अपडेट:एक दिन में डेंगू के 60 मरीज मिले, भुलत्थ से 42, शहर से आए 8 केस, आंकड़ा 316 पहुंचा

कपूरथला2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
डिप्टी डायरेक्टर डा.राजू धीर सिविल अस्पताल कपूरथला में डेंगू वार्ड का दौरा करते हुए। साथ हैं सिविल सर्जन डॉ. परमिंदर कौर। - Dainik Bhaskar
डिप्टी डायरेक्टर डा.राजू धीर सिविल अस्पताल कपूरथला में डेंगू वार्ड का दौरा करते हुए। साथ हैं सिविल सर्जन डॉ. परमिंदर कौर।
  • सेहत विभाग के डिप्टी डायरेक्टर ने प्रभावित क्षेत्रों में सर्वे पूरा करने के दिए आदेश
  • अक्टूबर में भुलत्थ से मिले डेंगू के 64 केस } सुल्तानपुर लोधी, फगवाड़ा, काला संघिया से मिले 10 मरीज

कोरोना के बाद डेंगू के मरीजों का आंकड़ा बढ़ रहा है। हर दिन कई मरीज मिल रहे हैं। अभी भी ज्यादा मरीज भुलत्थ से मिल रहे हैं। सेहत विभाग घर-घर सर्वे करने में जुट गया है। मरीजों की संख्या हर दिन बढ़ रही है। वीरवार को जिले में 60 नए डेंगू के केस और मिले हैं। इसमें से 42 मरीज अकेले भुलत्थ से हैं। 8 मरीज कपूरथला शहर से हैं जबकि 10 मरीज सुल्तानपुर लोधी, फगवाड़ा और काला संघिया से मिले है। 4 मरीजों की हालत गंभीर होने पर उन्हें सिविल

अस्पताल में दाखिल किया गया है। एक मरीज सिविल अस्पताल कपूरथला में दाखिल है जबकि 3 मरीज भुलत्थ अस्पताल में इलाज करवा रहे हैं। जिले में अब तक डेंगू मरीजों का आंकड़ा 316 तक पहुंच गया है। जिला एपिडीमोलॉजिस्ट डॉ. नंदिका खुल्लर ने बताया कि वीरवार को विभाग से 105 सैंपलों की रिपोर्ट मिली है। इसमें से 60 डेंगू मरीज पॉजिटिव आए हैं। 42 मरीज भुलत्थ से मिले है। भुलत्थ में जनवरी से अब तक डेंगू मरीजों की संख्या 206 तक पहुंच गई है। अक्टूबर में भुलत्थ से 64 डेंगू के मरीज मिले हैं। जिन क्षेत्रों में डेंगू पॉजिटिव मिले हैं, वहां डोर टू डोर सर्वें शुरू कर दिया है। हर दिन भुलत्थ से डोर टू डोर सर्वे हो रहा है।

डेंगू वार्ड, ब्लड बैंक व माइक्रो लैब का किया दौरा
वीरवार को डेंगू के मद्देनजर जिले की स्थिति का जायजा लेने के लिए सेहत विभाग के डिप्टी डायरेक्टर डॉ. राजू धीर कपूरथला पहुंचे। इस मौके पर उनके साथ सिविल सर्जन डॉ. परमिंदर कौर, जिला सेहत अधिकारी डॉ. कुलजीत सिंह, सीनियर मेडिकल अधिकारी डॉ. संदीप धवन, जिला एपिडीमोलॉजिस्ट डॉ. राजीव भगत व डॉ. नंदिका खुल्लर भी मौजूद थे।

जहां उन्होंने जिले में बढ़ रहे डेंगू के मरीजों की रोकथाम के लिए कड़े प्रबंध करने के आदेश भी दिए। डॉ. धीर ने कहा कि भुलत्थ में डेंगू के मरीजों की संख्या बढ़ रही है। उसे रोकने के लिए घर-घर सर्वें को तुरंत पूरा किया जाए। डॉ. राजू धीर ने सिविल अस्पताल के डेंगू वार्ड, ब्लड बैंक और माइक्रोलैब का दौरा किया और रिकॉर्ड भी जांचा।

सिविल सर्जन डॉ. परमिंदर कौर ने बताया कि सेहत विभाग की टीमें फील्ड में मुश्तैद है। सेहत विभाग डेंगू से निपटने के लिए हर संभव कोशिश कर रहा है। उन्होंने लोगों को भी अपील की कि वह सेहत विभाग का सहयोग करे और डेंगू से बचाव के लिए सेहत विभाग की गाइडलाइन का पालना करें।

खबरें और भी हैं...