पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

‘मिशन एक पेड़ नीम का’ संस्था ने लगाए पौधे:पर्यावरण प्रदूषण आतंकवाद से भी खतरनाक : मकरंदी

कपूरथला15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

आज बदल रहा वातावरण मानव समाज के लिए खतरा साबित हो सकता है। यह बात सनातन धर्म सभा के प्रधान सुभाष मकरंदी ने ‘मिशन एक पेड़ नीम का’ संस्था द्वारा शहर के अलग-अलग हिस्सों में पौधे लगाने के उपरांत कही। सुभाष मकरंदी ने कहा कि पर्यावरण प्रदूषण आतंकवाद से भी बड़ा खतरा है। वायु प्रदूषण तो मानसिक विकास की संभावनाओं को ही खत्म कर रहा है। ऐसे में इस समस्या से निपटने लिए जमीनी प्रयास करने की जरूरत है।

उन्होंने कहा कि पृथ्वी पर बढ़ता प्रदूषण धीरे-धीरे ऐसे प्राकृतिक परिवर्तनों को जन्म दे रहा है। इनसे प्रकृति में जलने वाला जलीय चक्र, मौसम चक्र तो अब स्पष्ट तौर पर अपने दुष्प्रभाव दिखाने लगे हैं। वायुमंडल परिवर्तन जहां ग्लोबल वार्मिंग को न्यौता दे रहे हैं, वहीं पिघलते ग्लेशियर निकट भविष्य में जल संसाधनों की कमी की तरफ संकेत कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि बढ़ता शहरीकरण, घटता वन क्षेत्र, प्राकृतिक संसाधनों का अत्यधिक दोहन, परम्परागत उर्जा स्रोतों पर बढ़ती हमारी निर्भरता मानवता को पतन की तरफ बढ़ा रही है। आवश्यकताओं की पूर्ति के लिए प्राकृतिक संसाधनों का इस हद तक दोहन किया है कि प्रकृति हमें और नहीं झेल पा रही है। अह हर व्यक्ति की जिम्मेदारी है कि वो प्रकृति को बचाने में अपना सहयोग अवश्य दें। इस अवसर पर अश्वनी शर्मा, आरएस बावा, कुलदीप शर्मा, राकेश चोपड़ा, कमल मल्होत्रा, विजय खोसला आदि उपस्थित थे।

खबरें और भी हैं...