पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

विरोध:प्राइवेट अस्पतालों के डॉक्टर्स पर हो रहे हमलों के विरोध में आईएमए ने किया प्रदर्शन, नारेबाजी की

कपूरथलाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • आईएमए के पदाधिकारियों व सदस्यों ने केंद्र और पंजाब सरकार के नाम डीसी को दिया ज्ञापन

आईएमए के आह्वान पर कपूरथला के प्राइवेट अस्पताल के डॉक्टर्स ने ड्यूटी के दौरान उनपर हो रहे हमलों को लेकर प्रदर्शन किया और सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने कहा कि रोजाना देश में डॉक्टर्स से मारपीट और अस्पतालों में तोड़फोड़ के हमले की घटनाएं लगातार सामने आ रही हैं। उन्होंने सरकार से मांग की कि डॉक्टर्स व अस्पतालों के अलावा मेडिकल स्टाफ पर हमला करने वाले आरोपी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाए।

मेडिकल क्षेत्र में बढ़ रही असुरक्षा और अराजकता से डॉक्टर्स व मेडिकल स्टाफ के मनोबल में भारी गिरावट आई है। उन्होंने केंद्र व राज्य सरकार से मांग दोहराते हुए कहा कि भविष्य में हिंसक घटनाओं को रोकने के लिए मौजूदा कानून की समीक्षा करते हुए कानून में संशोधन किया जाए।

डॉक्टर्स ने काली पटि्टयां बांधकर किया काम
प्राइवेट डॉक्टर्स ने पूरा दिन बाजू पर काली पट्‌टी लगा कर काम किया। एसएमओ डॉ. संदीप धवन ने कहा कि सरकारी अस्पतालों में कार्यरत डॉक्टर्स पर भी हमले होना जारी है। वह आईएमए की हर गतिविधि का समर्थन करते है। प्रदर्शन के बाद आईएमए के पदाधिकारियों व सदस्यों ने डीसी दीप्ति उप्पल को ज्ञापन देकर मांगों संबंधी केंद्र और पंजाब सरकार को अवगत करवाने के लिए कहा।

इस अवसर पर आईएमए अध्यक्ष डा. मधू सुदन संगर, डा. रणबीर कौशल, सचिव डा. अमनदीप सिंह, डा. सुभाष लोहिया, डा. सर्बजीत सिंह, डा. सुरजीत कौर, डा. राज कुमार भगत, डा. रणजीत राय, डा. जेएस थिंद, डा. एचएल महमी, डा. जेएस वधवा, डा. बीएस मोमी, डा. डीके मित्तल, डा. बीएस मुल्तानी, डा. पीएस औजला, डा. अनूप मेघ, डा. औलख के अलावा अन्य शामिल थे।

खबरें और भी हैं...