आत्महत्या:आटा चक्की में काम करने वाले नेपाली ने पंखे से फंदा लगा दी जान

कपूरथला3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • दो बच्चों के साथ पत्नी कई सालों से अलग रह रही थी

बेगोवाल के गांव मकसूदपुर में आटा चक्की में कार्यरत 50 वर्षीय मजदूर ने शुक्रवार रात मानसिक परेशानी के चलते पंखे की हुक से चादर की रस्सी बनाकर फंदा लगा लिया। उसकी मौके पर ही मौत हो गई। पुलिस ने सूचना मिलते ही शव को कब्जे में ले लिया है। मृतक की पहचान रोम बहादुर पुत्र पदम बहादुर हाल निवासी गांव मकसूदपुर मूल निवासी नेपाल के रूप में हुई है। थाना बेगोवाल प्रभारी गगनदीप सिंह ने बताया कि उन्हें शनिवार सुबह सूचना मिली कि अमरजीत सिंह निवासी गांव रावां, जो गांव मकसूदपुर में आटा चक्की चलाता है।

उसके पास कुछ साल से चक्की में काम कर रहे नेपाली ने फंदा लगा लिया है। वह पुलिस टीम के साथ मौके पर पहुंचे और शव को कब्जे में ले लिया। पूछताछ में पता चला कि उक्त मजदूर की पत्नी-पति के साथ मतभेद के चलते दो बच्चों सहित गत कुछ साल से अलग रह रही थी। थाना बेगोवाल प्रभारी ने बताया कि पुलिस ने चक्की मालिक अमरजीत सिंह के बयान पर धारा 174 की कार्रवाई कर कपूरथला के सिविल अस्पताल से शव का पोस्टमार्टम करवाकर वारिसों के हवाले कर दिया है।

खबरें और भी हैं...